कूड़ाघरों को Selfie Point में तब्दील करेगी योगी सरकार

क्या आपने कभी किसी ‘खूबसूरत’ कचरा डंपिंग साइट के बारे में सुना है ? कचरे के ढेर जो भयानक बदबू फैलाते थे और उसके आसपास कीड़ों और आवारा कुत्तों का जमावड़ा लगा रहता है। लेकिन शायद ये परसेप्शन अब बदलने वाला है। जी हां अब ये कूड़े के ढेर जल्द ही यूपी में Selfie Point में तब्दील होते हुए नजर आएंगे। सरकार से जुड़े अधिकारियों की माने तो पूरे राज्य में अनोखे बदलाव की कवायद शुरू की है क्योंकि ये डंपिंग साइट स्वच्छता के लिए खतरे पैदा कर रहे हैं। स्वच्छ भारत मिशन के तहत एक दिसंबर से 75 घंटों के लिए 75 जिलों के 750 नगर निकायों को कवर करते हुए राज्य भर में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। हम आपको बता दे की, डंपिंग केंद्रों को सेल्फी प्वाइंट के तौर पर विकसित करेगी योगी सरकार इस मेगा स्वच्छता अभियान के तहत राज्य के लगभग 750 नगर निकायों में कचरा संग्रह के मामले में ‘कचरा संवेदनशील बिंदुओं’ और ‘संवेदनशील स्थलों’ को स्वच्छ स्थानों में बदलने और सौंदर्यीकरण के बाद उन्हें सेल्फी प्वाइंट के रूप में बदलने की योजना विकसित करने की योजना है। सभी जीवीपी को सुशोभित किया जाएगा और वरिष्ठ नागरिकों के लिए जगह के साथ सेल्फी प्वाइंट में बदल दिया जाएगा या स्ट्रीट वेंडर्स को आवंटित किया जाएगा।”

वही, इस अभियान में शामिल सभी 75 जिले अभियान के उद्देश्य को समय सीमा में पूरा करने के लिए सभी नगर आयुक्तों को लिखित निर्देश जारी कर दिए गए हैं। ‘प्रतिबद्ध 75 जिले 75 घंटे 750 निकाय’ अभियान में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले निकायों को राज्य स्तर पर पुरस्कार दिया जायेगा, प्रत्येक श्रेणी में विजेता निकायों को दूसरों के अनुकरण के लिए ‘मॉडल’ के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा। ‘प्रतिबद्ध 75 जिले, 75 घंटे, 750 नागरिक निकाय’ शीर्षक वाले पत्र में अभियान से संबंधित सभी दिशा-निर्देश भी दिए गए हैं, जिसका उद्देश्य लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा करना भी है।