गुजरात में विरोधियों पर जमकर बरसे ओवैसी, बदरुद्दीन के विवादित बयान पर साधी चुप्पी

गुजरात चुनाव को लेकर ओवैसी ने कहा कि हम तो सिर्फ 13 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. इनमें ही ज्यादा से ज्यादा सीटों को जीतने का प्रयास कर रहे हैं. पहले चरण का मतदान संपन्न हो चुका है. अब दूसरे और अंतिम चरण की लड़ाई में शब्दों के बाण और ज्यादा तीखे हो गए हैं, जिससे प्रदेश का राजनीतक पारा और गरम हो गया है. दूसरे चरण के लिए सभी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इसी कड़ी में आज असदुद्दीन ओवैसी ने जमकर प्रचार किया है.

ओवैसी ने अपने विरोधियों पर जमकर हमला बोला. गुजरात चुनावों को लेकर ओवैसी ने कहा कि हम तो सिर्फ 13 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. इनमें ही ज्यादा से ज्यादा सीटों को जीतने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे लोग खूब मेहनत कर रहे हैं. जनता का हमें जैसा रिस्पॉन्स मिल रहा है तो यकीनन हमारी जीत होगी.
ओवैसी बोले रैली में क्यों निकले थे आंसू?
गुजरात चुनाव में ओवैसी की जमालपुर रैली का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में ओवैसी रोते हुए दिखाई दे रहे हैं. इससे जुड़े सवाल पर AIMIM चीफ ने कहा कि रैली में बिलकिस बानो का जिक्र किया तो मैं भावुक हो गया था. उन्होंने कहा कि वो 20 साल के बाद भी अपने इंसाफ के लिए लड़ रही है. ओवैसी ने कहा कि इस मसले पर अगर आपका दिल नहीं नरम होगा तो आप इंसान होने के काबिल नहीं है. मैं बिलकिस और उसके हस्बैंड को सलाम करता हूं.
काले झंडों से कमजोर नहीं हुआ हौसला
गुजरात की महज 13 सीटों पर अपनी ताकत आजमाने उतरे ओवैसी ने आज अहमदाबाद में एक रोड शो किया है. इस दौरान AIMIM चीफ को जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ा. रोड शो के दौरान उन्हें काले झंडे दिखाए गए और ‘ओवैसी गो बैक’ के नारे भी लगे. इसके बाद भी AIMIM अध्यक्ष का हौसला कमजोर नहीं पड़ा. इस मुद्दे पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी दोनों हमारा विरोध करती हैं. एक तरफ बीजेपी काले झंडे दिखाती है दूसरे तरफ कांग्रेस दिखाती है. उन्होंने कहा कि इन सब चीजों से हमें फर्क नहीं पड़ता.
केजरीवाल पर जमकर हमला किया
गुजरात चुनावों में ओवैसी के निशाने पर केजरीवाल भी हैं. केजरीवाल को लेकर उन्होंने कहा कि दिल्ली के CM ने एक इंटरव्यू में कहा कि मैं हिंदू हूं और हिंदूत्व को मानता हूं. ओवैसी ने पूछा कि तो क्या वे भारत के संविधान को नहीं मानते? ओवैसी ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि आप इससे देश में क्या संदेश दे रहे हैं? ओवैसी ने कहा कि आज पूरे भारत में लड़ाई ही इस बात को लेकर है कि हम पीएम मोदी से बड़े हिंदूत्ववादी हैं, फिर चाहे वह केजरीवाल हों या राहुल गांधी या फिर बाकी पार्टियों के नेता. ये सभी अंधेरे का मुकाबला अंधेरे से करना चाहते हैं, नफरत का मुकाबला नफरत से करना चाहते हैं, इन्हें फर्क ही नहीं पता है इसलिए बीजेपी जीतती है.
बदरुद्दीन अजमल के बयान पर चुप
ओवैसी ने इस दौरान राहुल गांधी पर भी जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के पिताजी जब देश के प्रधानमंत्री थे, तब उन्होंने बाबरी मस्जिद का ताल तुड़वा दिया था. जब मूर्तियां रखी गई थीं तब भी कांग्रेस की सरकार थी. नेहरूजी प्रधानमंत्री थे. ये वही तो बात बोलेंगे. इस दौरान ओवैसी ने AIUDF के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल के विवादित बयान पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया. ओवैसी ने कहा कि बदरुद्दीन भाई ने किस कॉन्टेक्स्ट में कहा है, वो वही जानते है. मैं उस पर कुछ नहीं कहूंगा.