प्रियंका गांधी बोलीं, आर्थिक मंदी और बीजेपी की खामोशी दोनों खतरनाक हैं

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा | उन्होंने कहा, ‘हर दिन मंदी की खबर और हर दिन भारतीय जनता पार्टी सरकार की इस पर खामोशी, दोनों बहुत खतरनाक हैं. इस सरकार के पास न हल है, न देशवासियों को भरोसा दिलाने का बल है, सिर्फ बहानेबाजी, बयानबाजी और अफवाहें फैलाने से काम नहीं चलेगा.’

प्रियंका गांधी केंद्र सरकार पर लगातार निशाना साध रही हैं. इससे पहले भी उन्होंने उत्तर प्रदेश में बिजली दरें बढ़ाने पर योगी सरकार को आड़े हाथ लिया था. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा था कि यूपी की बीजेपी सरकार आम जनता की जेब काटने में लगी है. पहले महंगे पेट्रोल-डीजल का बोझ और अब महंगी बिजली की मार. खजाने को खाली करके बीजेपी सरकार अब जनता पर महंगाई का चाबुक चला कर रही है.

आर्थिक मंदी को लेकर इससे पहले भी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोदी सरकार पर निशाना साधा था. प्रियंका ने मंगलवार को कहा था, ‘किसी झूठ को सौ बार कहने से झूठ सच नहीं हो जाता. बीजेपी सरकार को ये स्वीकार करना चाहिए कि अर्थव्यवस्था में ऐतिहासिक मंदी है और उन्हें इसे हल करने के उपायों की तरफ बढ़ना चाहिए. मंदी का हाल सबके सामने है. सरकार कब तक हेडलाइन मैनेजमेंट से काम चलाएगी?’

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा था कि सावन-भादो के महीने में मंदी तो रहती ही है. बता दें कि जीडीपी के ताजा आंकड़े मंदी की ओर इशारा करते दिख रहे हैं. मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आर्थिक विकास की दर करीब 6 साल में सबसे कम होकर 5 फीसदी पर पहुंच गई है. एक साल में ही जीडीपी में 3 प्रतिशत की भारी गिरावट हुई है. लेकिन बिहार के डिप्टी सीएम और वित्त मंत्री मानते हैं कि मंदी का शोर मचाकर कुछ लोग चुनाव में हार की खीझ उतार रहे हैं.