“100 विधायक लाओ और CM बन जाओ” – अखिलेश यादव

 

रामपुर विधानसभा उपचुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं. इसी बीच गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव रामपुर पहुंचे और जनसभा को संबोधित किया. इस जनसभा में आजम खान, उनके बेटे विधायक अब्दुल्ला आजम खान सहित सपा के तमाम दिग्गज नेता मौजूद थे. अखिलेश यादव ने सपा प्रत्याशी आसिम राजा के लिए जनता से वोट की अपील की. वहीं, अखिलेश यादव ने सूबे के दोनों उपमुख्यमंत्री को एक ऑफर भी दिया. उन्होंने कहा कि 100 विधायक लाओ और मुख्यमंत्री बन जाओ. वहीं, समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता आजम खान ने मंच संभालते ही अपना आक्रोश पुलिस पर निकाला. उन्होंने कप्तान साहब जिंदाबाद सीओ साहब जिंदाबाद के नारे मंच से लगाए. साथ ही उन्होंने यहां तक कह डाला कि इलेक्शन कमीशन यहां आए और आकर के बीजेपी प्रत्याशी को जीत का सर्टिफिकेट दे दे. अखिलेश यादव ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि अभी मंच पर कुछ अधिकारियों के जिंदाबाद के नारे सुन रहा था. शायद आजाद भारत में पहली बार पुलिस वालों के जिंदाबाद के नारे लग रहे होंगे. पुलिस के लिए इससे ज्यादा शर्म की बात और कोई हो नहीं सकती. अखिलेश यादव ने आगे कहा, कि हम लोग कानून और संविधान को मानते हैं. वहीं जो लोग दूसरी तरफ बैठे हैं वो न कानून की परवाह कर रहे हैं, ना संविधान की परवाह कर रहे हैं. अखिलेश यादव ने दोनों डिप्टी सीएम पर भी कटाक्ष किया. उन्होंने कहा कि यहां दो डिप्टी सीएम घूम रहे हैं. हमें जगह-जगह माफिया कह रहे हैं कि दोनों इस चक्कर में हैं कि कब मुख्यमंत्री बन जाए. अखिलेश ने कहा कि मैंने पहले भी उन्हें ऑफर दिया था और आज रामपुर से उन्हें एक ऑफर दे रहा हूं 100 विधायक लाओ और सौ विधायक हमारे हैं. मुख्यमंत्री बन जाओ. एक मुख्यमंत्री है जो अपने विभाग के सीएमओ और एक डॉक्टर का ट्रांसफर न कर पाए. एक दूसरे डिप्टी सीएम हैं उनका विभाग बदल दिया और जिस विभाग के मंत्री हैं उस विभाग का बजट ही नहीं है.

अखिलेश यादव ने कहा कि समय से बड़ा बलवान कोई नहीं है. जो लोग अन्याय कर रहे हैं और जो जो सत्ता में मुख्यमंत्री हैं उनकी फाइल मेरे सामने आई थी. फाइल में लिखा था इन पर केस रजिस्टर हो इन पर कार्रवाई हो, हम लोग समाजवादी लोग हैं किसी से नफरत या परेशान करने वाली राजनीति नहीं करते हैं. हम लोगों ने फाइल वापस कर दी. अगर यह बात गलत है तो आप अधिकारियों से पूछ सकते हैं.