13 July 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update

  1. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अनेक हिस्सों में बारिश, मॉनसून के दिल्ली आगमन की घोषणा

मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के अनेक हिस्सों में झमाझम बारिश हुई, जिसके बाद मौसम विभाग ने मॉनसून के दिल्ली आगमन की घोषणा कर दी. दक्षिण-पश्चिम मॉनसून दिल्ली-एनसीआर की ओर बढ़ने के साथ ही आखिरकार पांच दिन की देरी के बाद, मंगलवार को पूरे देश में छा गया. मौसम विभाग के मुताबिक, 16 जुलाई तक बहुत ही हल्की बारिश की उम्मीद हैं. उसके बाद बारिश बढ़ने की संभावना है.

  1. दिल्ली में जल्द खत्म होगा जलसंकट, हरियाणा सरकार ने यमुना में छोड़ा 16,000 क्यूसेक पानी

दिल्ली में जल्द ही जल संकट खत्म होने वाला है. हरियाणा की ओर से 16,000 क्यूसेक पानी यमुना में छोड़ा गया है. दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा का कहना है कि हरियाणा की ओर से छोड़ा गया पानी तीन से चार दिनों में दिल्ली पहुंचेगा. बता दें कि दिल्ली में यमुना नदी में पानी के गिरते जलस्तर के चलते कई इलाकों में पानी की किल्लत आ खड़ी हुई है. इसे लेकर दिल्ली सरकार और हरियाणा सरकार के बीच जमकर आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला भी जारी है. लेकिन इन सबके बीच दिल्ली वालों के लिए राहत की खबर सामने आई है.

  1. उत्तराखंड: टेंपररी पुल से उफनदी नदी पार करते लोग, उत्तराखंड की तस्वीरे डराने वाली

उत्तराखंड के कई जिलों में हो रही लगातार बारिश से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है और कई इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. इस बीच उत्तराखंड के देहरादून का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें लोग जान जोखिम में डालकर उफनती नदी पार कर रहे हैं. भारी बारिश के कारण टूट गए पुल के जरिए भी लोग नदी पार करते है. हालांकि सभी लोग सुरक्षित नदी के दूसरी तरफ पहुंच जाते हैं.लेकिन ये वीडियो डराने के लिए काफी है.

  1. कोरोना की तीसरी लहर पर PM ने चेताया, बोले- हिल स्टेशन पर उमड़ी भीड़ चिंता का विषय

कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है और इस बीच कई राज्यों से नए मामले बढ़ने की खबरें सामने आने लगी हैं. इसी बीच आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्तर के कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोविड-19 को लेकर अहम चर्चा की. हिल स्टेशन, पर्यटन स्थलों पर उमड़ रही भीड़ को लेकर पीएम मोदी ने चिंता व्यक्त की और लोगों से सावधानी बरतने को कहा.

  1. हिमाचल में नदी किनारे बने 10 घर बहे, 3 लोगों की मौत, 12 लापता

हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बारिश, बादल फटने की घटनाओं की वजह से हालात खराब हैं. बारिश के बाद हुई लैंडस्लाइड के कारण हिमाचल में 10 घर बह गए. हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई, जबकि एक MBBS की छात्रा सहित 12 लोग लापता हो गए. हिमाचल के नगरोटा बगवां में 10 साल की लड़की बह गई, जिसकी लाश 300 मीटर दूर मिली. भागसूनाग में 12 कारें और एक दर्जन से ज्यादा मोटरसाइकिलें बह गईं. धर्मशाला के चैतरू गांव में मांझी नदी अपना रास्ता बदलकर सड़क पर बहने लगी है.

  1. दिल्ली के कालिंदी कुंज में स्थित यमुना नदी में फिर से दिखे जहरीले झाग

दिल्ली के कालिंदी कुंज में स्थित यमुना नदी में फिर से जहरीले झाग दिखाई दे रहे है.आए दिन यमुना नदी में ये जहरीली झाग दिखाई देती हैं. ये जहरीली झाग यमुना नदी में बढ़ते प्रदूषण के कारण दिखाई देती हैं. जानकारों का कहना है कि ये झाग हरियाणा और दिल्ली की फैक्ट्रियों से निकलने वाले पानी की वजह से यमुना नदी में प्रदूषण स्तर बढ़ जाता है, जिसकी वजह से नदी में जहरीली झाग दिखाई देती है.

  1. जम्मू में टूटा 32 साल का रिकार्ड, नदियों के किनारे बसे इलाके जलमग्न, कई पशु तेज बहाव में बह गए

जम्मू में बारिश ने पिछले 32 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। सोमवार को 150.6 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। इससे पहले सात जुलाई 1989 को 150.4 मिलीमीटर बारिश हुई थी। जम्मू में सोमवार सुबह हुई मुसलधार बारिश से नदी-नालों में उफान और बरसाती नालों में बाढ़ से कई छोटे पुल और कच्चे मकान ढह गए। नदियों के किनारे बसे इलाके जलमग्न होने से कई पशु भी तेज बहाव में बह गए।

  1. देश में लगातार घट रहे कोरोना के केस, लेकिन केरल-महाराष्ट्र बढ़ा रहे चिंताः स्वास्थ्य मंत्रालय

मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि देश में संक्रमण के मामलों में लगातार कमी तो आ रही है, लेकिन केरल और महाराष्ट्र में देश के 50% से ज्यादा नए केस रजिस्टर्ड हो रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि देश में इस वक्त 4.31 लाख एक्टिव केस हैं और रिकवरी रेट 97.3% है.

  1. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कचनार का पौधा रोपा

हर दिन एक पेड़ लगाने के अपने संकल्प के तहत आज मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौहान ने कचनार का पौधा रोपा. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा प्रतिदिन एक पौधा लगाने का क्रम जारी है। आज भोपाल स्थित स्मार्ट पार्क में कचनार का पौधा रोपा। कचनार सुंदर फूलों वाला वृक्ष है। इसके छोटे या मध्यम ऊँचाई के वृक्ष पूरे भारत में पाए जाते हैं। प्रकृति ने कचनार को अनेक औषधीय गुणों से भरपूर रखा है।

  1. वायु प्रदूषण के चलते और गंभीर हो रही है कोरोना मरीजों की हालत- स्टडी

दुनिया भर में अभी भी कोरोना वायरस का कोई ना कोई नया वैरिएंट  आकर तबाही मचा जा रहा है. इन सबके बीच एक नए शोध में सामने आया है, जिसमें कहा गया है कि प्रदूषण के चलते कोविड के मामले और ज्यादा गंभीर हो रहे हैं. अमेरिका के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक में यह स्टडी हुई. स्टडी में दावा किया गया कि अमेरिका के मिशिगन स्थितत डेट्रॉइट में कोरोना  के चलते अस्पताल में भर्ती 2,038 वयस्कों पर अध्ययन के बाद रिसर्चर्स में पाया गया कि जिन लोगों को सांस लेने में मदद करने के लिए ICU की जरूरत पड़ी थी, वे संभवतः वायु प्रदूषण से प्रभावित इलाकों में रहने वाले थे.

Source: Different News website