16 April 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update।

  1. उत्तराखंड जंगल में आग: 24 घंटे में 104 घटनाएं,152 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित

उत्तराखंड में जंगलों की आग बेकाबू होती जा रही है. तमाम कोशिशों के बावजूद आग जंगलों से सटे रिहायशी इलाकों में पहुंच गई है. कुमाऊं के चंपावत में आग की चपेट में आकर एक ग्रामीण का मकान जल गया, जबकि कई जगह घास के ढेर और खेतों को भी नुकसान पहुंचा है. ऐसी भी खबर है कि कई मवेशी भी इस आग में झुलस गए है. पिछले 24 घंटे में राज्य में 104 घटनाएं हो चुकी हैं, जिनमें 152 हेक्टेयर वन क्षेत्र प्रभावित हुआ है.

  1. दिल्ली में पानी की कमी के लिए हरियाणा और पंजाब जिम्मेदार : दिल्ली जल बोर्ड

दिल्ली जल बोर्ड ने राजधानी दिल्ली में पानी की किल्लत और दूषित जल के लिए हरियाणा और पंजाब को जिम्मेदार ठहराया है.दिल्ली जल बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि हरियाणा और पंजाब के रवैये के कारण दिल्ली में करीब 30 फीसदी पानी की आपूर्ति में कमी आई है. सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे में दिल्ली जल बोर्ड ने कहा है कि हरियाणा और पंजाब न केवल राजधानी को कम पानी की आपूर्ति कर रहे हैं बल्कि दूषित पानी भी दे रहे हैं. यही कारण है कि यमुना में अमोनिया का स्तर बढ़ गया है. दोनों राज्य शीर्ष अदालत के पूर्व आदेशों का पालन नहीं कर रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल हरियाणा व पंजाब को यथास्थिति बनाए रखने के लिए कहा है.

  1. बेंगलुरु में झीलों में पहुंच रहा गंदा पानी, दो से तीन दशक में कम हुए 80 से 90 फीसदी पक्षी

बेंगलुरु में  विशेषज्ञों और पर्यावरण डिपार्टमेंट के मुताबिक जल पक्षियों की संख्या में लगातार गिरावट आई है. इसका मुख्य कारण झीलों की बिगड़ती स्थिति, बेकार सीवेज का होना बताया गया है. बर्ड वॉचर्स और ऑर्निथोलॉजिस्ट ने बताया कि पिछले दो से तीन दशकों में गिरावट 80% से 90% के बीच कहीं भी हो सकती है. पक्षी विज्ञानी और वैज्ञानिक एस सुब्रमण्य के अनुसार, झील के विकास के लिए सिविल इंजीनियरिंग तकनीकों का उपयोग जल पक्षियों पर गहरा प्रभाव डालता है. वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) और राष्ट्रीय पर्यावरण अनुसंधान संस्थान की एक संयुक्त रिपोर्ट के अनुसार, शहर में और उसके आस-पास 205 में से 19 झीलें पूरी तरह से अतिक्रमित हैं और केवल 21 में पानी है जो पीने लायक है.

4.भोपाल:मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने आवास पर करंज का पौधा लगाया

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के राज्य में पौधरोपण का अभियान तेजी से जारी है,शिवराज सिंह ने अपने प्रतिदिन एक पौधा लगाने के संकल्प को आगे बढ़ाते हुए आज अपने आवास पर करंज का पौधा लगाया. इस दौरान सीएम चौहान ने कहा है कि मैं रोज़ एक पेड़ लगा रहा हूँ, प्रदेश की जनता से अपील है कि वह भी हर साल और संभव हो तो हर महिने एक पौधा जरूर लगाएं.

  1. एनजीटी ने कोरोना के कारण अपने ग्रीष्मावकाश की नयी अवधि घोषित की

राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने अपने ग्रीष्मावकाश की नयी अवधि घोषित की है। एनजीटी द्वारा जारी एक आधिकारिक आदेश में पूर्व में अधिसूचित एक जून से 30 जून तक के ग्रीष्मावकाश को रद्द कर दिया गया। साथ ही, इस अवधि के दौरान अधिकरण का कामकाज सुचारू तरीके से होने की घोषणा की गई है।आदेश के मुताबिक अब ग्रीष्मावकाश एनजीटी की सभी पीठों के लिए 19 अप्रैल से 18 मई तक रहेगा।आदेश में कहा गया है कि कोविड-19 के मामलों में अचानक और अत्यधिक वृद्धि होने के चलते सक्षम प्राधिकार ने ग्रीष्मावकाश की अवधि में बदलाव किया है।

  1. हिमाचल प्रदेश: बैजनाथ के घट्टा के जंगलों में लगी आग

हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में भी जंगलों में आग लगी हुई है. राज्य के  जिला कांगड़ा और मंडी की सीमा घट्टा के समीप जंगल में भीषण आग लग गई है. आग को बुझाने के लिए वन विभाग की कई टीमें लगी है. लेकिन आग पर अभी तक पूरी तरह से काबू नहीं पाया गया है. ये सारा जंगल पठानकोट मंडी नेशनल हाईवे और पठानकोट जोगेंद्रनगर रेल मार्ग के बीच में है. इस पूरे इलाके में सुबह से धुआं फैला हुआ है. इससे आसपास के लोगों को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है. साथ ही पर्यावरण व वन्यजीवों को भी भारी नुकसान पहुंचा है.

  1. बिहार: केवल कोरोना के कारण ही नहीं, पटना में तेजी से बढ़ते प्रदूषण की वजह से भी बढ़ रहे सांस के मरीज

बिहार की राजधानी पटना की हवा एक बार फिर मानकों को तोड़कर जहरीली हो गयी है। भविष्य में इसे और खतरनाक स्तर तक जाने की उम्मीद है। इसका मुख्य कारण है पछुआ की गति में तेजी आना। पछुआ की गति में जैसे-जैसे तेजी आ रही है, हवा में धूलकण की मात्रा बढ़ती जा रही है। बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के अध्यक्ष डॉ. अशोक कुमार घोष का कहना है कि राजधानी की हवा में धूलकण मात्रा जितनी बढ़ेगी, लोगों को सांस संबंधी परेशानी भी उतनी ही बढ़ती जाएगी।हवा में धूलकण की मात्रा बढ़ने के कारण ही लोग दमा एवं सांस संबंधी अन्य बीमारियों के शिकार हो रहे हैं.

8.कोरोना अपडेट: एक दिन में आए सबसे ज्यादा नए मामले, 2 लाख 17 हजार से ज्यादा नए मामले

भारत में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय  के ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 2,17,353 मामले सामने आए हैं.ये अब तक आए एक दिन में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले है. इसके साथ ही कोरोना संक्रमण का कुल आंकड़ा अब 1,42,91,917 हो गया है. पिछले 24 घंटों में 1,185 लोगों की कोरोना संक्रमण से जान चली है.इसके बाद कुल मौतों की संख्या बढ़कर 1,74,308 पर पहुंच गई है. अब एक्टिव मामलों का आंकड़ा बढ़कर 15,69,743 हो गया है. डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या अब 1,25,47,866 हो गई है.

9.मौसम की जानकारी: राजधानी दिल्ली में मौसम बदलने के साथ बारिश

राजधानी दिल्ली में दोपहर बाद मौसम बदल गया.. तेज हवा के साथ बारिश ने दिल्ली वालों का दिल खुश कर दिया. पश्चिमी दिल्ली के कई इलाकों में 4 बजे से बारिश शुरू भी हो गई है। दिल्ली के कई इलाकों में झमाझम बारिश देखने को मिली है. अगले 48 घंटों में भी दिल्ली के आसमान में बादल मंडराने और तेज धूप से लोगों को राहत मिलने के आसार जताए गए है.

10.झारखंड का मौसम: रांची में कभी धूप तो कभी छांव, तीन दिनों तक बारिश होने के आसार

झारखंड की राजधानी रांची में आज शुक्रवार सुबह से धूप और बादल की आंख मिचौली जारी रही. कभी तेज धूप खिल जा रहा था तो कभी बादल छा जा रहे थे. मौसम विभाग ने  अगले तीन दिनों तक झारखंड के कुछ हिस्सों में ऐसे ही मौसम बने रहने की संभावना जताई है. इस दौरान हल्के दर्जे की बारिश के साथ वज्रपात की भी संभावना है. 18 अप्रैल के बाद आसमान के साफ होने की संभावना है.

Sources: Different news websites