26 June 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update

1.स्टडी में दावा- वायु प्रदूषण से हुई मौतों में 25 फीसदी घरेलू उत्सर्जन के कारण, इनमें टल सकती थी एक चौथाई मौत

भारत में वायु प्रदूषण से जुड़ी एक चौथाई मौतें घरेलू उत्सर्जन के कारण होती हैं. पहली ग्लोबल सोर्स अपॉर्शन्मन्ट स्टडी में यह दावा किया गया है. नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित स्टडी में 2017 और 2019 में स्पेसिफिक सोर्स से वायु प्रदूषण के कारण हुई मौतों की संख्या का विश्लेषण किया गया है. स्टडी में बायो फ्यूल जलाने (खाना पकाने, हीटिंग से उत्सर्जन के कारण इनडोर वायु प्रदूषण) से घरेलू उत्सर्जन के 15 प्रदूषणकारी स्रोतों की पहचान की गई. इसमें 2017 और 2019 में पार्टिकुलेट मैटर 2.5 का करीब एक-चौथाई हिस्सा रहा.

2.दिल्ली सरकार अगले 15 दिन तक चलाएगी पौधरोपण अभियान : गोपाल राय

दिल्ली सरकार ‘वन महोत्सव’ के तहत अगले 15 दिन तक राष्ट्रीय राजधानी में पौधारोपण अभियान चलाएगी। इसी कड़ी में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने आज शनिवार को यमुना बैंक पर गढ़ी मांडू में ‘वन महोत्सव’ का उद्घाटन किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार का अपने पांच साल के कार्यकाल में दो करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य है और इसके तहत इस साल 33 लाख पौधे लगाने हैं.

3.CM चौहान ने लगाया गूलर का पौधा, कहा- आप पौधे लगायें और उसकी देखभाल भी करें

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने प्रतिदिन एक पौधा लगाने के संकल्प को आगे बढ़ाते हुए आज गूलर का पौधा लगाया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ‘वन प्लांट अ डे’ के तहत आज भोपाल के स्मार्ट पार्क में गूलर का पौधा रोपा है. इस दौरान CM चौहान ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि आप पौधे लगायें और उसकी देखभाल भी करें, आपको सुखद अनुभूति होगी.

4.छत्तीसगढ़ में ‘पौधा तुंहर द्वार’ योजना की शुरुआत, वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने झंडी दिखाकर किया गाड़ियों को रवाना

छत्तीसगढ़ में आज से सबसे बड़े पौधारोपण योजना की शुरुआत की गई है. राज्य के वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर ने राज्य सरकार की महत्वपूर्ण ‘पौधा तुंहर द्वार’ योजना के तहत पौधे वितरण के लिए वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इसके तहत राज्य में इस साल 2 करोड़ 27 लाख पौधों के वितरण का लक्ष्य रखा गया है.

5.कार्बेट और राजाजी बाघ अभयारण्य पर्यटकों के लिए अब साल भर खुले रहेंगे

उत्तराखंड के वन एवं पर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश में स्थित विख्यात कार्बेट और राजाजी टाइगर रिजर्व अब पर्यटकों के लिए वर्ष भर खुले रहेंगे. कुमांउ क्षेत्र में स्थित कार्बेट और गढवाल क्षेत्र में स्थित राजाजी टाइगर रिजर्व हर साल 30 जून से 15 नवंबर तक पर्यटकों के लिए बंद रहता है. लेकिन अब वन मंत्री रावत ने बताया कि टाइगर रिजर्व को वर्ष भर खोला जाना कोविड महामारी के कारण पिछले डेढ साल से अधिक समय से बुरी तरह से प्रभावित हुई विभाग की आमदनी को बढ़ाने की योजना का हिस्सा है.

6.बिहार, मध्य प्रदेश सहित 10 राज्यों में वन्यजीवों के लिए बनेगा चारागाह, चारे-पानी की नहीं होगी कमी

जंगल में वन्यजीवों की बढ़ती संख्या के साथ ही वन एवं पर्यावरण मंत्रालय अब उनके चारे और पानी के पर्याप्त इंतजाम में जुट गया है. केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने शुक्रवार को बिहार, मध्य प्रदेश सहित दस राज्यों में इससे जुड़े प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है. इसके तहत इन सभी राज्यों के जंगल में नए जल क्षेत्रों का निर्माण होगा. जिससे वन्यजीवों के लिए पानी की पर्याप्त उपलब्धता होगी. साथ ही समूचे वनक्षेत्र के जलस्तर में भी सुधार होगा.

7.मध्य प्रदेश के मंत्री ने चलाई 60 किलो मीटर साइकिल

मध्य प्रदेश के पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने मध्य प्रदेश में 60 किलोमीटर की साइकिल यात्रा की. हरदीप सिंह डंग ने शुक्रवार की एनसीसी कैडर्स के साथ मन्दसौर से नीमच तक की 60 कि.मी. की पर्यावरण सुरक्षा-संरक्षण और कोविड-19 टीकाकरण के प्रति जन-जागरूकता साइकिल रैली में सहभागिता की. डंग ने अपनी इस साढ़े चार घंटे की साइकिल यात्रा में जगह-जगह लोगों को मानसून के दौरान पौध-रोपण करने, पर्यावरण संरक्षण और कोविड टीकाकरण के लिए अपील की.

8.दिल्ली में मौसम सुहावना, कई राज्यों में भारी बारिश को लेकर मौसम विभाग का अलर्ट

देश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है. पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन और नदियां उफान पर हैं. वहीं, दिल्ली में भी गर्मी से राहत मिलती  हुई नजर आ रही है. दिल्ली में दोपहर में कड़ी धूप निकलने के बाद शाम होते होते मौसम सुहावना हो गया है. मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश और तेज हवाओं के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं.

9.चम्पावत से रुद्रप्रयाग तक साफ हुई उत्‍तराखंड की हवा, कर्फ्यू के कारण प्रदूषण का ग्राफ गिरा

उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू के कारण प्रदूषण का ग्राफ गिरा है. पर्यावरण पर वैश्विक डेटा जारी करने वाली एक्यूवेदर वेबसाइट के अनुसार  उत्तराखंड के कुमाऊं व गढ़वाल के पर्वतीय शहरों की हवा में प्रदूषण नहीं है. नैनीताल में प्रदूषण का स्तर 90 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर आंका गया. वेबसाइट ने सबसे साफ हवा चम्पावत की बताई है. यहां प्रदूषण सिर्फ 27 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर पाया गया.

10.कोरोना अपडेट: 5 दिन में दूसरी बार 50 हजार से कम आए नए केस, 24 घंटे में 1183 की मौत

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 48,698 नए कोरोना केस आए और 1183 संक्रमितों की जान चली गई है. वहीं पिछले 24 घंटे में 64,818 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.31 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट करीब 97 फीसदी है. एक्टिव केस करीब 2 फीसदी हैं.

Source: Different News website