26 May 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update।

1.चक्रवात यास दिखा रहा रौद्र अवतार, ओडिशा के धामरा में बाढ़ जैसे हालात

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान यास बेहद रौद्र रूप धारण कर चुका है. ओडिशा और पश्चिम बंगाल में यास तूफान के तांडव को देखते हुए बिहार,उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। वहीं पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकार ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जोखिम वाले क्षेत्रों से 12 लाख से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया है। ओडिशा में लैंडफॉल के बाद नावों और दुकानों को भारी नुकसान पहुंचा। साथ ही चक्रवात यास की वजह से भद्रक जिले के धामरा में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं।चक्रवात यास के कराण समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं और रिहायशी इलाकों में पानी घुस गया है.

2.आज साल का पहला चंद्र ग्रहण, दुनिया के कई हिस्सों में दिखा खूबसूरत नजारा

आज साल का पहला चंद्र ग्रहण लग चुका है. आज का चंद्र ग्रहण कई मायनों में बेहद खास है. आज सुपरमून, ब्लड मून और पूर्ण चंद्र ग्रहण की घटनाएं एक साथ हुई. ये पूर्ण चंद्र ग्रहण पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत और अमेरिका में दिखाई दिया. ये प्रशांत, अटलांटिक और हिंद महासागर के कुछ हिस्सों से भी दिखाई दिया. ये चंद्र ग्रहण दोपहर 2 बजकर 17 मिनट पर शुरू हुआ और शाम 7 बजकर 19 मिनट पर खत्म हो गया.

3.वाराणसी में गंगा के पानी का अचानक बदल रहा रंग, वैज्ञानिकों ने जताई चिंता

धार्मिक नगरी काशी में इन दिनों गंगा का पानी हरा हो गया है. पिछले कुछ दिनों से भारी मात्रा में शैवाल आने से गंगा का पानी पूरी तरह हरा हो गया है, इसे लेकर लोगों में तरह-तरह की आशंकाए बनी हुई हैं. स्थानीय लोगों के अनुसार शैवाल के जमा होने से गंगा के प्रवाह में कमी आई है और पानी का रंग बदल गया है. यह गंगा में रहने वाले जीवों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. गंगा में शैवाल की बड़ी मात्रा को देखते हुए केंद्रीय प्रदूषण बोर्ड के अधिकारी जांच में जुट गए हैं.

4.टाउते तूफान के बाद कंगना रनौत को सता रही है पर्यावरण की चिंता, अपने बगीचे में लगाए 20 पौधे

देश के कई तटवर्तीय इलाकों में चक्रवाती तूफान तौकते ने तबाही मचाई थी. तूफान के चलते पर्यावरण को काफी नुकसान हुआ, कई भारी पेड़ ग‍िर पड़े. ऐसे में बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए अपने गार्डन में 20 पौधे लगाई.एक्ट्रेस कंगना रनौत ने इस बात की जानकारी अपने इंस्टाग्राम पर तस्वीरें पोस्ट करके दी है. उन्होनें मनाली में अपने घर के बगीचे में देवदार समेत कई और तरह के 20 पेड़ लगाए हैं. इन तस्वीरों को शेयर करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा, ‘आज मैंने 20 पेड़ लगाए हैं. हम बस उसी के बारे में पूछते हैं जो हमें मिला है, कभी-कभी ये भी पूछिए कि मैंने इस ग्रह को वापस क्या दिया है.’

5.एनजीटी ने सीपीसीबी को सिंचाई में शोधित जल के इस्तेमाल का दिशानिर्देश लागू करने के निर्देश दिए

राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) को निर्देश दिया है कि उद्योगों से निकले शोधित जल का इस्तेमाल सिंचाई एवं बागवानी में करने के इसके दिशानिर्देशों को लागू किया जाए।एनजीटी ने शीर्ष प्रदूषण निगरानी संस्था से कहा कि इसके 2019 के दिशानिर्देशों का पालन कराया जाए।एनजीटी ने 2019 के आदेश में कहा था कि कोई भी उद्योग सिंचाई, पौधारोपण या बागवानी के लिए जमीन की उपलब्धता और शोधित जल का कृषि, फसल, पौधों पर पड़ने वाले असर का आकलन किए बगैर इस तरह के जल को जमीन पर नहीं छोड़ सकता है।

6.प्रदूषण से हो सकती है भूलने की बीमारी! रिसर्च में हुआ डिमेंशिया होने का खुलासा

कई रिसर्च में सामने आ चुका है कि वायु प्रदूषण का असर इंसानी दिमाग पर पड़ रहा है. जिससे आगे चलकर गंभीर किस्म की बीमारियां हो सकती हैं. अब नई रिसर्च में पता चला है कि वायु प्रदूषण से लोगों को आगे चलकर डिमेंशिया होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. डिमेंशिया बीमारी में मरीज की यादाश्त जाने लगती है और वह सोचने और फैसले लेने की स्थिति में नहीं रहता. मेडिकल न्यूज टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया ने ये स्टडी की है.

7.गंगा किनारे शव दफनाने-बहाने से बढ़ी प्रदूषण की आशंका, IITR की टीम ने कानपुर, प्रयागराज व काशी में लिए नमूने

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के दूसरे लहर के प्रकोप के बाद काफी संख्या में लोगों ने दम तोड़ दिया। इस बीच गंगा किनारे शव दफनाने और नदी में शव बहने के मामले सामने आने लगे। शव दफनाने और नदी में शव बहने से गंगा जल भी प्रदूषित होने की बात कही जा रही है। अब काउंसिल फार साइंटिफिक इंडस्ट्रियल रिसर्च और इंडियन इंस्टीट्यूट आफ टॉक्सिकोलॉजी रिसर्च लखनऊ की संयुक्त टीम ने कानपुर, प्रयागराज व काशी में गंगाजल के नमूने जांच के लिए हैं। इसकी जांच रिपोर्ट 15 दिनों में आने की संभावना है। तब पता चलेगा यहां गंगाजल में कितना प्रदूषण है।

8.कोरोना के मामले फिर बढ़े, 24 घंटे में 2.08 लाख नए केस, 4157 की मौत

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 2 लाख 8 हजार 921 नए कोरोना केस आए और 4157 संक्रमितों की जान चली गई है. वहीं 2 लाख 95 हजार 955 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. कुल कोरोना केस- दो करोड़ 71 लाख 57 हजार 795, कुल डिस्चार्ज- दो करोड़ 43 लाख 50 हजार 816,कुल एक्टिव केस- 24 लाख 95 हजार 591,कुल मौत- 3 लाख 11 हजार 388

9. पश्चिमी विक्षोभ और तौकते तूफाने के चलते दिल्ली-एनसीआर के लोगों को गर्मी से राहत

पश्चिमी विक्षोभ और तौकते तूफाने के चलते दिल्ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों को मई महीने में न तो तेज धूप का सामना करना पड़ा और न ही लू चली. हालांकि,मई महीने खत्म होने के बाद मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में एक और पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा, जिससे गर्मी और लू से राहत मिल जाएगी. जून में पड़ने वाली गर्मी और चिलचिलाती धूप से राहत पाने के लिए लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ सकता है. यास तूफान के कारण देश की राजधानी में दिल्ली में इस बार मानसून 27 जून की जगह 11 से 19 जुलाई के बीच पहुंच सकता है. मौसम विज्ञानियों की मानें तो टाक्टे तूफान तो बेअसर रहा, लेकिन यास तूफान मानसून की रफ्तार रोकेगा और जाहिर तौर पर इसका असर पूरे भारत पर पड़ेगा और इसी कड़ी में दिल्ली में भी देर से बारिश शुरू होगी.

10.’यास’ तूफान को लेकर मौसम विभाग का हाई अलर्ट, NDRF-SDRF की 22 टीम मुस्तैद

साइक्लोन यास का लैंडफॉल भले ही ओडिशा में हुआ हो, लेकिन बिहार-झारखंड समेत मे भी इसको लेकर अलर्ट जारी है, ये अब झारखंड की ओर बढ़ रहा है. कल यानि गुरुवार सुबह को यह झारखंड पहुंचेगा. झारखंड में रेडअलर्ट जारी है, इससे पहले आज सुबह से ही राज्य के लगभग सभी जिलों में बारिश के साथ हवाएं भी चल रही हैं. झारखंड में कोल्हान, खूंटी, सिमडेगा, रांची के आसपास तेज बारिश, तूफान आने की चेतावनी जारी की गई है. लोहरदगा, रामगढ़ और बोकारो में भी भारी बारिश और 90 किमी प्रति घंटा से अधिक गति से हवा चलेगी. गुरुवार को भी रांची के अलावा सरायकेला-खरसावां, खूंटी, लोहरदगा, लातेहार, डालटनगंज, गढ़वा, सिमडेगा एवं इसके आसपास के इलाके में भारी बारिश के आसार हैं. इस दौरान 70 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार भी चलने की संभावना है.

Source: Different news website