27 August 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update

  1. उत्तराखंड: भारी बारिश से आफत, टूटा देहरादून-ऋषिकेश के बीच पुल, बही कई गाड़ियां, लोगों की तलाश शुरू

पिछले 48 घंटों से हो रही बारिश के कारण उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में तबाही के मंजर नजर आ रहे हैं. भारी बारिश के कारण रानी पोखरी के नजदीक देहरादून-ऋषिकेश ब्रिज टूट गया. जिसके बाद कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. वहीं लगातार हो रही बारिश से मालदेवता-सहस्रधारा लिंक रोड कई मीटर तक नदी में समा गया. यह घटना खेरी गांव की है. यहां भारी बारिश की वजह से सड़क में कटाव हो गया और पूरा रास्ता पानी में बह गया. यहां दो गाड़ियों के भी बहने की खबर है. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. मौसम विभाग ने उत्तराखंड के 5 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

  1. प्रदूषण के कारण मॉनसून की बारिश में 10 से 15 प्रतिशत की कमी: स्टडी

क्लाइमेट ट्रेंड्स की इस स्टडी में बताया गया है कि किस तरह से अधिक प्रदूषण के असर से देश के अलग अलग रीजन में मॉनसून पैटर्न में बदलाव आ रहा है। इतना ही नहीं, स्टडी में संभावना जताई गई कि आने वाले सालों में यदि प्रदूषण बढ़ता रहा तो मॉनसून में बारिश कम से कम 10 प्रतिशत तक कम हो जाएगी। पूरे देश में मॉनसून की बारिश में प्रदूषण की वजह से 10 से 15 प्रतिशत की कमी आएगी।

  1. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पीपल का लगाया पौधा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हर रोज एक पौधा जरूर लगाते है. इसी कड़ी में आज उन्होंने भोपाल स्थित स्मार्ट पार्क में पीपल का पौधा रोपा. इस दौरान उन्होंने कहा की MP Vaccination MahaAbhiyan 2 को सफल बनाने के लिए प्रदेश की जनता को बधाई और धन्यवाद देता हूँ। आज इसी संकल्प के साथ पौधा रोपा है कि जल्द से जल्द समस्त पात्र नागरिकों का टीकाकरण कर मध्यप्रदेश को एक सुरक्षा कवच देंगे.

ये भी पढ़ें- Viral Video: पहली बार मिला मांसाहारी कछुआ, वीडियो देखकर वैज्ञानिक हैरान

  1. उत्तर बिहार पर फिर से मंडरा रहा बाढ़ का खतरा, गोरखपुर में बाढ़ और बारिश से हाहाकार

उत्तर बिहार में एक बार बाढ़ की स्थिति फिर से उत्पन्न हो गई है. बीते कई दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. वही उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बाढ़ और बारिश लोगों के लिए मुसीबत बनी हुई है. बाढ़ ने जहां 135 गांवों और 1.52 लाख लोगों को प्रभावित किया है. वहीं बारिश के कारण राप्‍ती, घाघरा और रोहिन के साथ सहायक नदियां भी अपना रौद्र रूप दिखा रही है.

  1. दिल्ली: स्मॉग टावर पर बोले पर्यावरणविद, प्रदूषण कम करने का ये स्थायी समाधान नहीं

दिल्ली सरकार ने कनॉट प्लेस में अपने पहले स्मॉग टावर का उद्घाटन किया, लेकिन पर्यावरणविदों का मानना है कि इस तरह की परियोजना वायु प्रदूषण जैसी जटिल समस्या का स्थायी समाधान मुहैया नहीं करा सकती है. इसके कई आयाम हैं और यह दिल्ली जैसे संसाधनों की कमी वाले शहर में खर्च का सौदा साबित हो सकता है.

  1. पर्यावरण संरक्षण :2022 में वन विभाग लगाएगा 15 लाख पौधे, महकेगी हरियाली

हरियाणा के पानीपत में वन विभाग अगले साल 2022 में 15 लाख पौधे लगाएगा। हर साल विभाग की तरफ से पौधे लगाने की संख्या बढ़ाई जा रही है। इसी साल 12 लाख पौधे लगाने का टारगेट मिला था। वहीं जल शक्ति अभियान के तहत पौधे लगाने की प्रक्रिया की जा रही है।

  1. आरएसएस के आह्वान पर 29 को एक करोड़ लोग करेंगे प्रकृति वंदन, गायक सोनू निगम ने भी कराया रजिस्ट्रेशन

झारखंड में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पर्यावरण संरक्षण गतिविधि और हिंदू आध्यात्मिक एवं सेवा फाउंडेशन की ओर से 29 अगस्त को प्रकृति वंदन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इस दिन देश-विदेश के एक करोड़ से अधिक लोग स्वजनों के साथ घर में प्रकृति वंदन करेंगे। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भी वीडियो जारी कर समाज के लोगों से इस अभियान के साथ जुड़कर जल संवर्द्धन व पर्यावरण की रक्षा के लिए आगे आने की अपील की है। इस कार्यक्रम के लिए गायक सोनू निगम ने भी रजिस्ट्रेशन करवा लिया है.

  1. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने पर्यावरण मित्रों को प्रोत्साहन राशि सहित की कई घोषणाएं

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा सत्र में बिजली, पर्यावरण मित्रों को प्रोत्साहन राशि देने सहित कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरी विकास विभाग के अंतर्गत पर्यावरण मित्रों को 2000 रुपये की प्रोत्साहन धनराशि 5 माह तक प्रदान की जायेगी। इससे लगभग 8300 पर्यावरण मित्र लाभान्वित होंगे। इस पर लगभग 830.00 लाख का व्यय भार आएगा.

9.कोरोना अपडेट: लगातार दूसरे दिन 40 हजार से ज्यादा कोरोना मामले दर्ज, 11 हजार एक्टिव केस भी बढ़े

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 44,658 नए कोरोना केस आए और 496 कोरोना संक्रमितों की जान चली गई. वहीं 24 घंटे में 32,988 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. कोरोना महामारी की शुरुआत से लेकर अबतक कुल तीन करोड़ 26 लाख 3 हजार लोग संक्रमित हुए हैं. इनमें से 4 लाख 36 हजार 861 लोगों की मौत हो चुकी है. अच्छी बात ये है कि अबतक 3 करोड़ 18 लाख 21 हजार लोग ठीक भी हुए हैं.

10.जलवायु परिवर्तन के कारण बढ़ता खतरा, धरती की ऊपरी परत हो रहें बड़े बदलाव

कैम्ब्रिज में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में हुए शोध के मुताबिक ग्रीनलैंड और अंटार्कटिका के ग्लेशियर पर हुए अध्ययनों से यह पता चला है कि पृथ्वी की पर्पटी पर मौसम बदलने के कारण बड़े बदलाव देखने को मिल रहे हैं. एक्सपर्ट्स के अनुसार नॉर्थ पोल पर साल 2003 से लेकर 2018 के बीच ग्रीनलैंड और आर्कटिक ग्लेशियर की पिघलती बर्फ ने धरती के बाहरी भाग पर असर डाला है.

Source: Different News Website