29 September 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update

1.पौधरोपण के साथ वन्यजीवों के संरक्षण पर सरकार का जोर : गोपाल राय

दिल्ली सरकार पौधरोपण के साथ वन्यजीवों के संरक्षण पर भी विशेष ध्यान दे रही है. इसी कड़ी में असोला भाटी वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में 2 अक्तूबर से वन्यजीव संरक्षण जागरूकता अभियान शुरू किया जाएगा. वन्यजीवों का प्रकृति के संतुलन में योगदान को देखते हुए सरकार ने यह निर्णय लिया है. वन विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि मैदानी राज्य के मापदंड के हिसाब से दिल्ली ने 20 फीसदी के ग्रीन बेल्ट के लक्ष्य को हासिल कर लिया है

2.महाराष्ट्र के लातूर में जल’प्रलय’, लोगों को निकालने के लिए हेलिकॉप्टर तैनात

महाराष्ट्र के लातूर में मंगलवार को तेज बारिश हुई. इससे यहां निचले इलाकों और नदी के किनारे बसे गांवों में पानी भर गया. इसके बाद लोगों को बचाने के लिए एनडीआरएफ की टीम, हेलिकॉप्टर और नावों को लगाना पड़ा. पिछले 2 दिन में बारिश से जुड़ी घटनाओं में महाराष्ट्र में 13 लोगों की मौत हो गई. वहीं, एनडीआरएफ ने राज्य में 560 लोगों का रेस्क्यू किया.

  1. दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति नेराजधानी दिल्ली में 1 जनवरी 2022 तक फटाखे फोड़ने और बि ..

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) ने राजधानी दिल्ली में अगले साल एक जनवरी 2022 तक सभी प्रकार के पटाखों को फोड़ने और बेचने पर ‘पूर्ण प्रतिबंध’ लगाया है। यह निर्णय वायु प्रदूषण में वृद्धि को रोकने के लिए लिया गया है। DPCC ने कहा कि पटाखे फोड़ने से बड़े पैमाने पर जश्न मनाने से COVID-19 नियमों का उल्लंघन होगा, जिससे पॉजिटिव मामलों में वृद्धि हो सकती है। वहीं पटाखों को फोड़ने से न केवल वायु प्रदूषण में वृद्धि होगी, बल्कि लोगों के लिए गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं भी पैदा होंगी।

  1. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज लगाया आंवले का पौधा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संकल्प लिया है कि वो हर रोज एक पौधा जरूर लगायेंगे और वो अपने इस संकल्प को पूरा भी कर रहे है. इसी कड़ी में आज उन्होंने अपने निवास परिसर में आंवले का पौधा रोपा। इस दौरान उन्होंने कहा कि वृक्ष प्रकृति के प्राण हैं और यही हमारे प्राणों के रक्षक भी! प्रकृति और मनुष्य के जीवन रक्षक इन वृक्षों की रक्षा का हम सब भी प्रण लें। पौधरोपण करें और इनकी देखभाल भी। यह धरती हरी-भरी और समृद्ध तथा मानव सुखी होगा।

5.वन क्षेत्र बढ़ाने के लिए तमिलनाडु को मिलेगी केंद्र से वित्तीय सहायता

तमिलनाडु सरकार को राज्य में वन क्षेत्र बढ़ाने के लिए केंद्र से धन मिलेगा। केंद्रीय पर्यावरण और वन मंत्रालय के सूत्रों ने IANS को बताया कि राज्य सरकार ने केंद्र सरकार को एक ज्ञापन सौंपकर राज्य के वन क्षेत्र को बढ़ाने के लिए समर्थन मांगा है।सूत्रों ने कहा कि केंद्रीय मंत्री ने तमिलनाडु के अपने समकक्ष को आश्वासन दिया है कि इस उद्देश्य के लिए धन स्वीकृत दी जाएगी, लेकिन दोनों पक्षों के अधिकारियों के साथ विस्तृत विचार-विमर्श के बाद ही मात्रा तय की जाएगी।

  1. सात गुना ज्यादा गर्मी और 3 गुना सूखा, जलवायु परिवर्तन का बच्‍चों पर पड़ेगा बड़ा असर

जलवायु परिवर्तन का असर दुनियाभर में समय-समय पर देखने को मिलता रहता है. भविष्‍य में इसके और भी ज्‍यादा दुष्‍परिणाम देखने की चेतावनी जारी की जा चुकी है. इन सबके बीच अब शोधकर्ताओं ने एक अध्‍ययन के आधार पर कहा है कि आज जो बच्‍चे हैं वो वयस्‍कों की तुलना में ज्‍यादा प्राकृतिक आपदाओं का सामना करेंगे. इस शोध के निष्‍कर्ष को ‘साइंस’ जर्नल में प्रकाशित किया गया है.

  1. जलवायु परिवर्तन खेती ही नहीं, पूरे पारिस्थितिकी तंत्र के लिए चुनौती: नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि जलवायु परिवर्तन न केवल कृषि बल्कि पूरे पारिस्थितिकी तंत्र के लिये बड़ी चुनौती बन गया है और इस समस्या के हल के लिए प्रयास तेज करने की जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण जो नए प्रकार के कीट, नई बीमारियां और महामारी आ रही हैं इससे इंसान और पशुधन के स्वास्थ्य पर भी बहुत बड़ा संकट आ रहा है। इन पहलुओं पर ध्यान रखकर जब विज्ञान, सरकार और समाज मिलकर काम करेंगे, तो उसके नतीजे और बेहतर आएंगे।

8.कोरोना की रफ्तार में कमी, 24 घंटे में 18 हजार नए मामले, 378 लोगों की मौत

देश भर में पिछले 24 घंटों में कुल 18 हजार 196 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें 11 हजार 699 मरीज सिर्फ केरल से रिपोर्ट हुए हैं। इस राज्य में इस दौरान 149 मरीजों की मौत हुई है। जबकि पूरे देश में कोरोना से 378 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटों में संक्रमण दर 1.25 प्रतिशत हो गया है। पिछले 30 दिनों से रोजाना संक्रमण दर तीन प्रतिशत से नीचे दर्ज किया जा रहा है। देश में अबतक कोरोना के कुल तीन करोड़, 37 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। सक्रिय मरीजों की संख्या दो लाख, 82 हजार, 520 है।

  1. जलवायु परिवर्तन से प्रभावित हुआ फलों की फसलों में फूल आने का समयृ

केंद्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान (CISH) के निदेशक डॉ. शैलेंद्र राजन का कहना है कि जलवायु परिवर्तन (Climate change) की वजह से फलों की फसलों में फूल आने का समय प्रभावित हुआ है. इसलिए पिछले एक साल से किसानों को पिछले सर्दियों में अमरूद (Guava) की अच्छी फसल नहीं मिल पा रही. डॉ. राजन ‘जलवायु लचीली किस्मों, प्रौद्योगिकियों और प्रथाओं’ पर लखनऊ में आयोजित किसान-वैज्ञानिक चर्चा को संबोधित कर रहे थे. कार्यक्रम में मलीहाबाद के सौ से अधिक किसानों (Farmers) ने शिरकत की.

  1. दिल्ली में आंशिक तौर पर बादलों की आवाजाही, कई राज्यों में होगी भारी बारिश

मध्य भारत और पूर्व तट पर चक्रवात गुलाब के असर से भारी बारिश हुई है. मौसम विभाग के मुताबिक अब पश्चिमी तट पर पहुंचने के बाद इसके फिर मजबूत होने के आसार हैं. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और गुजरात में भारी बारिश होने की संभावना है. हालांकि, उत्तर भारत के राज्यों में कुछ स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी हो सकती है. वहीं, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आंशिक तौर पर बादलों की आवाजाही रहेगी.