3 June 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update

1.आज विश्व साइकिल दिवस: देश के 41 शहरों में साइकिलिंग को बढ़ावा, हजारों करोड़ रुपये का होगा लाभ

आज विश्व साइकिल दिवस है। हर साल 3 जून को इसे मनाया जाता है. भारत में भी इस मौके पर कई कार्यक्रमों के तहत साइकिलिंग को बढ़ावा दिया गया है. केंद्र सरकार ने पिछले साल देश में ‘इंडिया साइकिल्स4चेंज’ अभियान शुरू किया था. इसके तहत अब तक 41 शहरों में अभियान तेजी से जारी है.देश में साइकिल ट्रैक के लिए 3900 किलोमीटर से ज्यादा लंबी सड़कों की पहचान की गई है. इन 41 शहरों में साइकिल ट्रैक का सर्वे किया जा रहा है. साइकिलिंग से होने वाले फायदों को लेकर जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक इससे हर साल अर्थव्यवस्था को 1.80 लाख करोड़ रुपए का फायदा हो सकता है.

2.उप राष्ट्रपति ने लोगों से साइकिल का प्रचलन बढ़ाने का किया आह्वान, कहा पर्यावरण होगा सुरक्षित

उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने विश्व साइकिल दिवस के अवसर पर आज गुरुवार को लोगों से आह्वान किया है कि वे साइकिल के प्रचलन को बढ़ावा दें. उन्होंने कहा कि साइकिल का उपयोग सुलभ और सस्ता है और इससे पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने में भी मदद मिलती है. उन्होंने कहा कि परिवहन के इस सुलभ, सरल, सस्ते और स्वास्थ्यकारी साधन को अपनी जीवन शैली में अधिक से अधिक अपनाएं और पर्यावरण को वायु प्रदूषण से बचाएं।

3.आपके सूंघने की शक्ति को खतरे में डाल सकता है वायु प्रदूषण- रिसर्च

एक नई रिसर्च में कहा गया है कि वायु प्रदूषण के छोटे-छोटे कणों में लंबे समय तक सांस लेना आपके सूंघने की शक्ति को खतरे में डाल सकता है. मेडिकल परिभाषा में सूंघने की क्षमता को खो देना एनोस्मिया कहलाता है. शोधकर्ताओं ने पाया कि एनोस्मिया का खतरा वायु प्रदूषण के पार्टिकुलेट मैटर में लंबे समय तक संपर्क से करीब दोगुना हो गया.

4.विश्व साइकिल दिवस: साइक्लिंग के दीवानों का शहर है चंडीगढ़, छह माह में बचाया पर्यावरण

स्मार्ट सिटी चंडीगढ़ की पहचान यहां की हरियाली और शुद्ध हवा से है। इसकी खासियत को बचाए रखने में साइकिलों का काफी योगदान है. स्मार्ट सिटी के अधिकारियों के अनुसार, छह महिनें में लोगों ने गाड़ी के बजाय 20 लाख 67 हजार 703 मिनट अधिक साइकिल चलाई. जिससे लोगों ने 1 लाख 10 हजार 504 किग्रा कार्बन डाई ऑक्साइड पर्यावरण में जाने से बचाई, जिससे प्रदुषण में भी कमी आई. लोगों का रुझान देखकर स्मार्ट सिटी जल्द पब्लिक बाइक शेयरिंग प्रोजेक्ट को शुरू करने की तैयारी में है.

5.ऑटो रिक्शा, एसी कार टैक्सी या बस, किसमें ज्यादा तेजी से फैलता है कोरोना? रिसर्च से हुआ ये खुलासा

ऑटो रिक्शा के मुकाबले एयर कंडीशनर टैक्सी में सह यात्री से कोरोना संक्रमण की संभावना 300 गुना ज्यादा होती है.इस बात का खुलासा जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की तरफ से किए गए रिसर्च में हुआ है. इस रिसर्च में परिवहन के चार माध्यम टैक्सी, ऑटो रिक्शा, बस और एयर कंडीशनर टैक्सी का विश्लेषण किया गया. रिसर्च का विषय था ‘भारत में कोविड-19 महामारी के दौरान परिवहन की विभिन्न गाड़ियों का जोखिम विश्लेषण.’शोधकर्ताओं का कहना है कि परिवहन के चारों विकल्पों में से ऑटो सबसे सुरक्षित है.

6. रांची: 465 करोड़ का विधानसभा भवन ले रहा हवा में हिचकोला

देश की सबसे आकर्षक विधानसभाओं में एक झारखंड की नवनिर्मित विधानसभा भवन हवा में हिचकोले ले रहा है. कल देर शाम आई तेज हवा ने विधानसभा के वेस्टर्न साइड मे लगे पत्थर के तीन स्लैब को सूखे पत्ते की तरह उड़ा दिया. गनीमत रहा कि उस समय वहां कोई व्यक्ति मौजूद नहीं था, नहीं तो किसी बड़ी दुर्घटना से इनकार नहीं किया जा सकता. पत्थर का स्लैब टूट कर गिरने के बाद आज सुबह आनन-फानन में पत्थर के बिखरे टुकड़े को वहां से हटाया गया.

7.झारखंड सरकार ने रिम्स को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस घोषित किया

झारखंड सरकार ने रिम्स को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस घोषित किया है। इसमें रिम्स के तीन विभाग एक साथ मिलकर काम करेंगे। रिम्स के तीन विभाग डिपार्टमेंट ऑफ नियोनेटोलॉजी, डिपार्टमेंट ऑफ पीडियाट्रिक, सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर मैनेजमेंट ऑफ सैम चिल्ड्रेन को शामिल किया गया है। कोविड-19 के मैनेजमेंट के लिए प्रशिक्षण कार्य के साथ-साथ तकनीकी मार्गदर्शन इन्हीं विभागों द्वारा दिया जाएगा।

8.देश में 24 घंटे में कोरोना के 1 लाख 34 हजार नए केस, देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.18 फीसदी

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 1 लाख 34 हजार 154 नए कोरोना केस आए और 2887 संक्रमितों की जान चली गई है. वहीं 2 लाख 11 हजार 499 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.18 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 92 फीसदी से ज्यादा हो गया है. एक्टिव केस घटकर 7 फीसदी से कम हो गए हैं. कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है.

9.समाज के फेफड़ों के समान होते हैं उद्यान, उनकी देखरेख का सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया जाए: एनजीटी

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने लुधियाना के किदवई नगर में एक सार्वजनिक उद्यान के हरित क्षेत्र में कांक्रीट निर्माण के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि उद्यान समाज के फेफड़ों की तरह हैं. एनजीटी ने कहा कि अधिकरण के फरवरी 2014 में दिए गए आदेश में कहा गया है कि पैदल चलने वालों के लिए रास्ता बनाने के लिए उस पर टाइल लगाने या कंक्रीट का निर्माण का काम पांच फीसदी से अधिक नहीं होना चाहिए, वहीं फुटपाथ तथा ट्रैक केवल छिद्रयुक्त ब्लॉक से ही बनाए जाने चाहिए.‘इसमें कोई शक नहीं कि उद्यान शहर के फेफड़ों के समान होते हैं जिनकी देखरेख करने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास करना चाहिए.

10.  दक्षिण-पश्चिम मानसून केरल पहुंचा, मौसम का मिजाज फिर बदलेगा

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, दक्षिण पश्चिम मानसून ने केरल के दक्षिणी हिस्सों में दस्तक दे दी है. इधर उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बारिश देखने को मिल रही है. लखनऊ में दोपहर बाद झमाझम बारिश हुई है. झारखंड में 4 जून तक कहीं-कहीं पर हल्के से मध्यम दर्जे की गर्जन या वज्रपात के साथ तेज हवा चल सकती है. हवा की रफ्तार 30 से 40 किमी प्रति घंटा रहेगी. इस दौरान आसमान में आंशिक बादल छाये रहेंगे. वहीं, मेघ गर्जन के साथ बारिश की संभावना है.मध्य प्रदेश में भी मौसम बदल गया है और यहां के कई जिलों में बारिश देखने को मिल रही है.

Source: Different news websites