30 April 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update।

1.अध्ययन: वायु प्रदूषकों के बढ़ते स्तर का असर दिल्ली और कानपुर में ज्यादा, तेजी से पिघल रहे ग्लेशियर

ब्रिटेन में बर्मिंघम विश्वविद्यालय द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक, भारत के नई दिल्ली समेत कई शहरों में वायु प्रदूषकों का स्तर काफी अधिक है। अध्ययन में नई दिल्ली, कानपुर और लंदन में वायु प्रदूषण फॉर्मल्डीहाइड में वृद्धि देखी गई है। उपग्रहों पर लगे उपकरणों के आंकड़ों के अध्ययन में वायु गुणवत्ता पर नजर रखने की जरूरत और स्वच्छ पर्यावरण के लिए उठाए जा रहे कदमों पर जोर दिया गया है।

2.SC ने केद्र से पूछा- 100% वैक्सीन क्यों नहीं खरीदी, भारत और अमेरिका में कीमत अलग-अलग क्यों?

कोविड मामले पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सवाल किया कि केंद्र सरकार 100 प्रतिशत वैक्सीन क्यों नहीं खरीद रही. एक हिस्सा खरीद कर बाकी बेचने के लिए वैक्सीन निर्माता कंपनियों को क्यों स्वतंत्र कर दिया गया है? कोर्ट ने कहा कि वैक्सीन विकसित करने में सरकार का भी पैसा लगा है. इसलिए, यह सार्वजनिक संसाधन है.सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लोगों को सही और उचित कीमत पर इलाज मिल सके, यह सुनिश्चित करना जरूरी है. जो लोग स्वास्थ्य सेवा में लगे हैं, उनकी सुरक्षा जरूरी

3.पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन बोले- दिल्ली के प्रदूषण के लिए पंजाब नहीं, यूपी व हरियाणा जिम्मेदार

पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन प्रो. एसएस मरवाहा ने दिल्ली-एनसीआर की हवा को प्रदूषित करने के लिए पंजाब को जिम्मेवार ठहराने के दावे का खंडन करते हुए कहा है कि दिल्ली-एनसीआर के प्रदूषण के लिए पंजाब को जिम्मेदार ठहराना पूरी तरह से गलत है। पंजाब के किसानों को पराली जलाने की बात कहकर बदनाम किया जाता रहा है। दूसरों पर आरोप लगाने के बजाय दिल्ली को बढ़ रहे प्रदूषण के समाधान के बारे में सोचने की जरूरत है। चेयरमैन प्रो. एसएस मरवाहा ने बताया कि सेंट्रल पाल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (सीपीसीबी) की तरफ से नवंबर 2019 में सुप्रीम कोर्ट में दायर रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली सरकार के दावों की पोल पहले भी खुल चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली के प्रदूषण में पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा जलाई का योगदान 10 प्रतिशत से भी कम है।

4. उत्तराखंड: अराजक तत्वों ने खुजेटी बीट के जंगलों में लगाई आग, करीब 300 हेक्टेयर जंगल राख

उत्तराखंड के चम्पावत में अराजक तत्वों ने देवीधुरा रेंज के खुजेटी बीट के जंगल में आग लगा दी। आग ने धीरे-धीरे कर विकराल रूप ले लिया। आग से करीब 300 हेक्टेयर जंगल जल गया तो वहीं आग गांव में पहुंचने से कई ग्रामीणों के लुट्ठे भी आग से जल गई। सुबह की सूचना के बाद शाम को पहुंचे वन विभाग के कर्मियों व ग्रामीणों ने जैसे-तैसे आग पर काबू पाया।

5.कोविड से बढ़ रहा मौत का आंकड़ा, कुत्तों के श्मशान को इंसानों के लिए इस्तेमाल करने की तैयारी

दिल्ली में साउथ, नॉर्थ और ईस्ट एमसीडी में जितने भी श्मशान हैं, उनमें हर रोज कोरोना से मरने वाले लोगों के चिताओं की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है। हफ्तेभर पहले तक श्मशानों में 650 चिताएं कोविड मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए रिजर्व थीं। इसके बाद चिताओं की संख्या बढ़ाकर 773 कर दी गई। लेकिन, श्मशानों में इतनी चिताएं भी कम पड़ने लगी थीं। इसके बाद सोमवार को एमसीडी ने कोविड चिताओं की संख्या बढ़ाकर 882 कर दी। इसके अलावा कुछ ऐसे स्थानों को चुना गया है, जहां नए श्मशान बनाए जा सकते हैं। द्वारका सेक्टर 29 स्थित कुत्तों के श्मशान को भी इंसानो के अंतिम संस्कार के लिए इस्तेमाल करने की प्लानिंग की गई। अगले हफ्ते से श्मशान 51 चिताएं तैयार की जाएंगी।

6.झारखंड के गुमला के झरगांव जंगल में लगी आग, हजारों पौधे जलकर हुए बर्बाद, 5 घंटे बाद पाया गया काबू

झारखंड के गुमला गुमला जिला अंतर्गत पड़ने वाले जंगलों में आए दिन आग लग रही है. जंगलों में आग लगने की घटना मार्च माह में शुरू हुई है. जो अब तक जारी है. मार्च माह से लेकर अब तक कई बार जंगलों में आग लग चुकी है. अभी एक दिन पहले ही कुरूमगढ़ वन प्रक्षेत्र अंतर्गत चैनपुर प्रखंड के झरगांव में आग लग गयी. आग लगभग 3 हेक्टेयर क्षेत्र तक फैल चुकी थी. आग को बुझाने के लिए वन विभाग को लगभग 5 घंटे तक मशक्कत करनी पड़ी. लेकिन आग बुझने से पहले हजारों की संख्या में नवजन्में एवं छोटे-बड़े पौधे जलकर बर्बाद हो गये.

7.दिल्ली में फर्जी कोरोना रिपोर्ट बनाने वाले 5 गिरफ्तार,नकली रेमडेसिविर बेचने वाले 7 गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने नकली रेमडेसिविर बेचने के मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस ने बताया, इनकी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट उत्तराखंड में है. इसके साथ पुलिस को भारी मात्रा में नकली दवाइयों की खेप मिली है. जिसमें 198 नकली रेमडेसिविर है. पैकेजिंग सामान को भी जब्त किया गया है.दिल्ली पुलिस ने गलत तरीके से फर्जी कोरोना रिपोर्ट बनाने वाले 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए 2 आरोपी लैब टेक्निशियन हैं और तीसरा एक डॉक्टर और टेस्टिंग लैब में एप्लीकेशन साइंटिस्ट है. वहीं कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के दौरान दिल्ली ट्रैफिक पुलिस वाहनों की जांच कर चालान भी कर रही है.

8.कोरोना अपडेट:देश में कोरोना ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड, एक दिन में आए 3.86 लाख से अधिक मामले; 3498 लोगों की मौत

बीते 24 घंटों में कोरोना ने एक बार फिर से रिकॉर्ड तोड़ दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3,86,452 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 3498 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है।अब तक इस महामारी की चपेट में आने वालों की संख्या ब़़ढकर 1,87,54,925 हो गई। मरने वालों की संख्या ब़़ढकर 2,08,313 हो गया है। फिलहाल देश में 31,69,169 सक्रिय मामले हैं। अब तक ठीक हो चुके लोगों की संख्या 1,53,69,362 हो गई है।

9.मौसम की जानकारी: दिल्लीवालों को मिलेगी गर्मी से राहत, लेकिन कई राज्यों में लू का कहर जारी

दिल्ली में गर्मी इन दिनों शितम शीत्तम ढाह रही है लेकिन अगले एक सप्ताह तक मौसम का मिजाज कुछ नरम रहने की संभावना है. हर रोज दोपहर बाद धूल भरी आंधी चलने और हल्की बारिश होने की संभावना जताई गई है. इससे तापमान भी कुछ कम रहेगा, जिससे गर्मी से थोड़ी राहत मिल सकती है. इसके साथ ही मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश , विदर्भ के कुछ हिस्सों में लू चलने की आशंका जाहिर की है. इसके अलावा बिहार, पश्चिम बंगाल और सिक्क्मि में तेज हवाओं के साथ-साथ बारिश हो सकती है. विभाग ने इन तीनों राज्यों को अलर्ट पर रखा है. इसके साथ ही पूर्वोत्तर के राज्यों असम, मेघालय, नगालैंड, मिजोर, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश में तेज हवाएं चलने के साथ-साथ बारिश भी हो सकती है.

10.झारखंड मौसम:तीन मई तक बारिश की संभावना, 40 से 50 किमी की रफ्तार से चलेगी हवा

झारखंड में बीती रात कई हिस्सों में बिजली चमकने के साथ बारिश हुई. झारखंड मौसम विभाग के अनुसार तीन मई तक राज्य के अलग-अलग हिस्सों में बारिश होने की संभावना है. इस दौरान राज्य के तापमान में गिरावट आयेगी, तापमान 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा. बीती रात राजधानी रांची समेत पाकुड़, साहेबगंज, गोड्डा, देवघर, धनबाद, गुमला, खूंटी समेत कई जिलों में बारिश हुई. इसके पहले 28 अप्रैल तक राज्य का तापमान 42 डिग्री सेल्स्यिस पहुंच गया था. ऐसे में लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी.