5 May 2021: Today’s Top Most 10 Environmental News।Weather news in India।Latest News Update।

1.जीरकपुर का छतबीड़ चिड़ियाघर 15 मई तक बंद, हैदराबाद में आठ शेर संक्रमित मिलने के बाद फैसला

हैदराबाद के चिड़ियाघर में आठ शेरों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई हैं. यह खबर मिलते ही कोरोना संक्रमण से वन्य प्राणियों के बचाव के लिए बुधवार पांच मई से पंजाब का छतबीड़ चिड़ियाघर बंद कर दिया है. हालांकि, शेर-टाइगर समेत सभी कार्निवोरस जानवर तंदरुस्त हैं, परंतु छतबीड़ जू विजिटर्स के लिए 31 मई तक अब पूरी तरह बंद कर दिया गया है. राजस्थान वन विभाग ने इस मामले को लेकर वन विभाग के जंगलों और जू में बाघ, बघेरों और शेरों सुरक्षा को लेकर आगामी रणनीति तैयार की गई है.

2.उत्तराखंड: 45 जगह वनाग्नि, 63.15 हेक्टेयर वन प्रभावित

उत्तराखंड में जंगलों मे आग की घटनाएं एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगी है. मंगलवार शाम चार बजे तक कुल 45 स्थानों पर वनाग्नि की घटनाओं हुई, इनमें से कुमाऊं वन क्षेत्र में 30 और वन्य जीव क्षेत्र में 15 जगहों पर आगजनी की घटनाएं हुई, जिसमे कुल 63.15 हेक्टेयर क्षेत्र प्रभावित और 1,40150 रुपये की आर्थिक क्षति हुई. हालांकि कोई मानव और पशुहानि नहीं हुई है. मंगलवार सुबह के समय गढ़वाल में 6 वनाग्नि पर काबू पा लिया गया है. एक मई से 4 मई तक वनाग्नि की कुल 79 घटनाएं हुई हैं, जिनमें 4109.46 हेक्टेयर क्षेत्र प्रभावित हुआ है और इनसे 1,93885 रुपये की आर्थिक क्षति हुई है.

3.चंडीगढ़ की इंटरनेशनल शूटर गौरी श्योराण पर्यावरण को लेकर चिंतित, बोलीं- ऑक्सीजन के लिए पर्यावरण बचाना जरूरी

चंडीगढ़ की इंटरनेशनल शूटर गौरी श्योराण ने बताया कि कोरोना काल के बाद वह पर्यावरण को लेकर खासी चिंतिंत हैं और उन्होंने बताया कि हालात सामान्य होने पर वह अपने स्तर पर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में काम करेंगी. गौरी श्योराण ने कहा कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने कहर बरपा रही है। हर जगह ऑक्सीजन की कमी से कोरोना पीड़ित व उनके स्वजन परेशान हो रहे हैं। ऐसे में हमें अपने पर्यावरण को बचाना होगा। हम पर्यावरण को कैसे बचा सकते हैं, आने वाले 50 से 100 सालों में हमारे सामने पर्यावरण से जुड़ी किस तरह की चुनौतियां होंगी। यही अध्ययन करने में आजकल मेरा अधिकतर समय बीत रहा है

4.यूपी:पिंजरे में कैद हुआ 9 लोगों को घायल करने वाला आदमखोर तेंदुआ, खत्म हुई दहशत

यूपी के श्रवास्ती जिले में 9 लोगों को एक तेंदुए ने घायल कर दिया. वन विभाग की टीम ने 24 घंटे के बाद कड़ी मशक्तत के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन कर तेंदुए को पिंजरे में कैद कर लिया है. जिले में लगातार गर्मी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है और जंगलों में आग लग रही है. जिसकी वजह से जंगली जानवर गांव की तरफ भागने लगे हैं. यही वजह है कि अपने घरों की छत पर सो रहे 9 लोगों को एक आदमखोर तेंदुए ने अपना शिकार बनाकर घायल कर दिया. ग्रामीणों ने घायलों को इलाज के अस्पताल पहुंचाया है.

5.भारत-ब्राजील ने नहीं मानी वैज्ञानिकों की सलाह, अब झेल रहे कोरोना का कहर: रिपोर्ट

प्रसिद्ध साइंस जर्नल नेचर में रिपोर्ट आई है कि भारत और ब्राजील की सरकार ने साइंटिस्ट्स की सलाह न मानकर कोरोना नियंत्रण का अच्छा मौका खो दिया. नेचर जर्नल के मुताबिक भारत और ब्राजील करीब 15 हजार किलोमीटर दूर हैं लेकिन दोनों में कोरोना को लेकर एक ही समस्या है. दोनों देशों के नेताओं ने वैज्ञानिकों की सलाह या तो मानी नहीं या फिर उसपर देरी से अमल किया. जिसकी वजह से दोनों देशों में हजारों लोगों की असामयिक मौत हो गई. भारत और ब्राजील की सरकार ने अगर वैज्ञानिकों की सलाह मानी होती तो कोरोना वायरस की खतरनाक दूसरी लहर को नियंत्रित करना आसान होता.

6.उत्तराखंड: लगातार घट रहा गौला का जलस्तर, 48 क्यूसेक पहुंचा, सिंचाई के लिए गहरा रहा संकट

उत्तराखंड के हल्द्वानी में कुछ दिन पहले बरसात की वजह से स्थिर रहने के बाद गौला नदी का जलस्तर फिर घटने लगा है. मंगलवार को नदी का स्तर 48 क्यूसेक पर पहुंच गया है. बरसात न होने पर जलस्तर तेजी से घटने की संभावना सिंचाई विभाग के अफसर जता रहे हैं. इससे सिंचाई का संकट और गहरा सकता है. बता दें कि गौला नदी हल्द्वानी शहर की जीवनदायिनी है. रोजाना गौला नदी से 32 एमएलडी पानी पेयजल के लिए लिया जाता है.बरसात लगातार न होने से जलस्तर फिर से घटने लगा है. अगर बरसात नहीं हुई तो आने वाले दिनों में कई इलाकों तक पानी पहुंचना मुश्किल हो सकता है.

7.उत्तराखंड और हिमाचल में बादल फटने से भारी नुकसान, मौसम विज्ञान केंद्र ने जारी किया आरेंज अलर्ट

उत्तराखंड में पहाड़ों पर प्रकृति ने कहर बरपा रखा है. रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में बादल फटने के बाद अब मंगलवार को चमोली जिले के घाट बाजार में भी बादल फटा। इससे भारी मात्रा में मलबा बाजार में कई दुकानों और घरों में जा घुसा, जिससे खासा नुकसान हुआ. वहीं, दूसरी ओर हिमाचल के चंबा में भी बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है।घरों में पानी घुस गया व जमीन बह गई। हालांकि गनीमत ये रही कि किसी भी घटना में जनहानि की कोई खबर नहीं है.मौसम विभाग ने उत्तराखंड में बारिश और ओलावृष्टि को लेकर आरेंज अलर्ट जारी किया है.कहीं-कहीं भारी बारिश और ओलावृष्टि की आशंका है. जबकि, पर्वतीय इलाकों में आकाशीय बिजली भी गिर सकती है.इसके अलावा मैदानी इलाकों में 40 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा भी चल सकती है.

8.कोरोना अपडेट:एक दिन में रिकॉर्ड 3780लोगों की गई जान, 24 घंटे में 3.82 लाख नए केस आए

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 382,315 नए कोरोना केस आए और 3780 संक्रमितों की जान चली गई है. हालांकि 3,38,439 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. देश में एक मई को रिकॉर्ड 3689 संक्रमितों की मौत हुई थी. कुल कोरोना केस- दो करोड़ 6 लाख 65 हजार 148,कुल डिस्चार्ज- एक करोड़ 69 लाख 51 हजार 731,कुल एक्टिव केस- 34 लाख 87 हजार 229,कुल मौत- 2 लाख 26 हजार 188,कुल टीकाकरण- 15 करोड़ 49 लाख 89 हजार 635 डोज दी गई

9. मौसम का हाल:दिल्ली-एनसीआर में तेज हवा और बूंदाबांदी का दौर शुरू,कई और राज्यों में तेज बारिश

आज बुधवार से दिल्ली-एनसीआर में तेज हवा और बूंदाबांदी का दौर शुरू होने की संभावना है. इससे लोगों को भीषण गर्मी से कुछ हद तक राहत मिलेगी.गुरुवार को धूल भरी हवाओं के साथ बूंदाबांदी की संभावना है. मौसम की इन गतिविधियों के चलते अधिकतम तापमान आमतौर पर 40 डिग्री से कम रहने की उम्मीद है. हवा के रफ्तार पकड़ने से अगले दो दिनों के बीच वायु गुणवत्ता में भी सुधार की उम्मीद है.इसके साथ ही राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी गरज के साथ बारिश होने की संभावना है. कुछ जगहों पर आंधी के भी आसार है. इधर, झारखंड, बंगाल, उड़ीसा, बिहार व अन्य पूर्वोत्तर राज्यों में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है.

10झारखंड में मौसम:मौसम में बदलाव से 4 डिग्री तक गिरा तापमान, 9 मई तक बारिश के आसार

झारखंड की राजधानी रांची सहित आसपास के इलाकों में बुधवार को एक बार फिर बारिश की संभावना बनी हुई है. आज बुधवार को आसमान में बादल छाए रहे.तेज हवा और गरज के साथ बारिश हो सकती है. 9 मई तक मौसम का मिजाज ऐसा ही बना रहेगा. 10 मई से आसमान साफ हो सकता है.इससे पहले मंगलवार दोपहर बाद मौसम ने करवट बदली. आसमान में बादल छाए.कुछ देर बाद गरज के साथ बारिश हुई. माैसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया.

Source: Different News website