राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद अयोध्या से मोदी ने देशवासियों को किया संबोधित, यहां पढ़ें संबोधन की अहम बातें…

आज अयोध्या में इतिहास रचा गया है. बुधवार को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर का भूमि पूजन किया. इसके बाद पीएम मोदी ने अयोध्या नगरी से देशवासियों को संबोधित किया. इस संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा, आज का ये दिन करोड़ों रामभक्तों के संकल्प की सत्यता का प्रमाण है. आज का ये दिन सत्य, अहिंसा, आस्था और बलिदान को न्यायप्रिय भारत की एक अनुपम भेंट है.देश भर के धामों और मंदिरों से लाई गई मिट्टी और नदियों का जल, वहां के लोगों, वहां की संस्कृति और वहां की भावनाएं, आज यहां की शक्ति बन गई हैं. वाकई ये न भूतो न भविष्यति है.आज भी भारत के बाहर दर्जनों ऐसे देश हैं जहां, वहां की भाषा में रामकथा प्रचलित है. मुझे विश्वास है कि आज इन देशों में भी करोड़ों लोगों को राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू होने से बहुत सुखद अनुभूति हो रही होगी. आखिर राम सबके हैं, सब में हैं.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि जीवन का ऐसा कोई पहलू नहीं है, जहां हमारे राम प्रेरणा न देते हों. भारत की ऐसी कोई भावना नहीं है जिसमें प्रभु राम झलकते न हों. भारत की आस्था में राम हैं, भारत के आदर्शों में राम हैं! भारत की दिव्यता में राम हैं, भारत के दर्शन में राम हैं. श्रीराम ने सामाजिक समरसता को अपने शासन का आधार बनाया था. उन्होंने गुरु वशिष्ठ से ज्ञान, केवट से प्रेम, शबरी से मातृत्व, हनुमानजी एवं वनवासी बंधुओं से सहयोग और प्रजा से विश्वास प्राप्त किया. यहां तक कि एक गिलहरी की महत्ता को भी उन्होंने सहर्ष स्वीकार किया. श्रीरामचंद्र को तेज में सूर्य के समान, क्षमा में पृथ्वी के तुल्य, बुद्धि में बृहस्पति के सदृश्य और यश में इंद्र के समान माना गया है. श्रीराम का चरित्र सबसे अधिक जिस केंद्र बिंदु पर घूमता है, वो है सत्य पर अडिग रहना. इसलिए ही श्रीराम संपूर्ण हैं.

 

यहां आपको बता दें कि पीएम मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन से पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा की.उन्हें यहां पर पगड़ी पहनाई गई. इसके बाद रामलला के दर्शन किए, उनकी पूजा की. इस दौरान पीएम मोदी ने साष्टांग दंडवत प्रणाम किया और परिसर में पारिजात का पौधा लगाया.इसके बाद पीएम मोदी ने राम मंदिन का भूमि पूजन किया.इस मौके पर पीएम मोदी के साथ योगी आदित्यनाथ, मोहन भागवत, आनंदी बेन पटेल समेत कई बड़े हस्ती मौजूद रहे. अब भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य तेज गति के साथ आगे बढ़ेगा.