नींद नही पूरी होने से घटती हैं उम्र! जाने पूरी जानकारी

आज कल लोगों की भागती और दोडती जिंदगी में एक सबसे बड़ी समस्या आपके सामने आती हैं. वो हैं नींद का नही आना. जिसको आजकल लोग आम बात भी मानने लगे हैं. लेकिन ये कोई आम बात नही हैं ये एक बहुत बड़ी समस्या हैं. तो चलिए आज हम आपको बताते हैं नींद न आने की कुछ कारण और नींद न आने से होने वाली हानि के बारें में.

रात को नींद न आने से हैं परेशान तो सोने से पहले खाएं ये आहार -  if-you-do-not-sleep-at-night-then-eat-this-food-before-sleeping - Nari  Punjab Kesari

ये तो आप सभी जानते ही हैं की अक्सर अलग-अलग कारणों से भी नींद खराब होती है. आप मान सकते हैं की काम की थकान की वजह या किसी तनाव से. अगर आप सही से नींद नहीं लोगें तो आपको कई तरह की शारीरिक दिक्कतें आती हैं. अगर कोई व्यक्ति छह घंटे से कम की नींद लेता है, तो उसके साथ सेहत संबंधी समस्याएं होना शुरू हो जाती हैं.

नींद न आने की हो रही हैं समस्या तो अपनाएं ये टिप्‍स : Insomnia Symptoms  Cause Sleep Disorder: Know Tips for Better Sleep During Lock Down: - India  TV Hindi News

आपको पता हैं की सही नींद नहीं लेने का नुकसान शरीर के 3 प्रमुख अंगों पर पड़ता है. इसे के साथ आपकी जिंदगी भी 12 फीसदी छोटी हो जाती है. अक्सर देखा जाता हैं की कई लोग गहरी नींद का आनंद नहीं ले पाते. क्योंकि वो देर रात तक जगते हैं. फिर वो सुबह देर तक सोते हैं. अगर वो नहीं सो पाते तो लोगों का दिन चिड़चिड़ाहट भरा जाता हैं.

गर्भावस्था में नींद न आना (इनसोमनिया) - BabyCenter India

कम नींद आने का कारण

लोगों के कम सोने का क्या कारण हैं इसी को लेकर हाल ही में साइंस जर्नल पर एक स्टडी प्रकाशित हुई है. जिसमें बिलकुल स्पष्ट रूप से बताया गया हैं की सही से नहीं सोने पर आपकी जिंदगी खराब हो जाती है. सही नींद न आने की कई कारण हो सकती हैं. ध्वनि प्रदूषण, प्रकाश प्रदूषण, तनाव, बेचैनी, बेइज्जती, धोखा खाना, सामाजिक-आर्थिक स्थिति और काम करने की शिफ्ट या टाइमिंग. इनकी वजह से दुनिया में अलग-अलग समुदाओं के लोग अलग-अलग तरह से सोते हैं. जिनसे उन्हें कई तरह की दिक्कतें होती हैं.

नींद की कमी के लक्षण, कारण, इलाज, नुकसान, दवा - Neend ki kami ke karan,  lakshan, ilaj, dawa aur upchar in Hindi

दिमाग की सतर्कता में कमी

कम नींद के कारण हमारा दिमाग धीमा हो जाता है और दिमाग में सतर्कताकम होने लगती हैं. जिसकी कारण आप काम में गलतियां करते है और आपकी नींद की कमी कभी-कभी किसी सड़क हादसे का भी रूप भी ले सकती हैं. कम सोने से आपके फैसला लेने की क्षमता पर बेहद बुरा असर पड़ता है. तनाव का स्तर तेजी से बढ़ता है. बेचैनी होती है. ज्यादा गंभीर स्थिति आने पर आप डिमेंशिया  के शिकार हो सकते हैं. या फिर उन्हें अल्जाइमर्स बीमारी हो सकती है.

Decoración Alternativa. Siempre una Historia. Conjunción de Mundos.WAMMS

दिल के दौरे के साथ स्ट्रोक का खतरा

अगर व्यक्ति को सही से नींद नहीं आती या फिर वो नींद पूरी नही करता. तो उसे हाइपरटेंशन होने की ज्यादा आशंका रहती है. लेकी अगर ज्यादा समय तक ऐसी स्थिति में इंसान रहता है तो उसे दिल का दौरा भी पड़ने की सम्भावना होती हैं. इसके आलावा फिर स्ट्रोक का हमला भी हो सकता है. इसलिए डॉक्टर्स कहते हैं कि सही और पूरी नींद लेने से दिल संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है.

sleeping 15 minutes less than normal increases obesity heart disease and  high bp risk | आपकी नींद में अगर 15 मिनट भी कमी हुई तो मोटापा, हाई बीपी और  हृदय रोग का

डायबिटीज और मोटापे की समस्या

अगर आप कम सोते हैं तो आपके शरीर की पाचन प्रक्रिया बिगड़ जाती है. यानी अग्नाशय जिसे आप पैंक्रियाज कहते हैं, वो सही से काम नहीं करता हैं. जिसके कारण मोटापा बढ़ने की आशंका ज्यादा हो जाती है. आपका शरीर इंसुलिन का विरोध करने लगता है. अगर ऐसा हुआ तो आपके शरीर में टाइप-2 डायबिटीज होने का खतरा बढ़ जाता है. डायबिटीज और हाइपरटेंशन एक साथ हो गए तो आपकी मुसीबत ज्यादा हो जाती है.

Solutions EmployerHealth PlanPublic SectorProviderPharma --------------  Digital Therapeutics AIHealth Security Community Well Being Community  Well-being IndexBlue Zones Project Health Topics  AllergiesCancerCoronavirusDiabetes Type 2Heart ...

इम्यून सिस्टम पर नींद का प्रभाव

आपको ये बात शायद नही पता होगी की अगर हम नींद कम लेते हैं या फिर सोते नही हैं तो शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर होने लगता है. इससे आपको सामान्य जुकाम होने का खतरा ज्यादा हो जाता है. कोरोनाकाल में जुकाम का होना खतरे की घंटी हो सकती है. इसलिए आपको इससे बचने का प्रयास करना चाहिए. साथ ही इम्यून सिस्टम कई वैक्सीन और दवाओं के हिसाब से काम नहीं कर पाता, जिससे किसी भी बीमारी को ठीक करने में काफी ज्यादा समय लगता है.

Sleeping More Than Eight Hours Harmful For Health Says Study - 8 घंटे से  ज्यादा सोना हो सकता है खतरनाक, स्टडी में खुलासा - Amar Ujala Hindi News Live

अगर आप अपनी जिन्दगी को पूरा जीना चाहते हैं तो आपको अपनी नींद का भी ख़याल रखना होगा क्योकि आपकी जिंदगी 12 फीसदी छोटी हो सकती हैं नींद पूरी नहीं होने के कारण. अगर आप हर रात छह घंटे से कम सोते हैं तो आप समय से पहले भी मर सकते हैं. यह बात एक बड़ी स्टडी में साबित भी हुई है. इसलिए कोशिश करिए कि आप 6 से 8 घंटे के बीच अपनी नींद रखें और गहरी नींद में सोने का प्रयास कीजिए.

 

STORY BY – UPASANA SINGH