कहीं आप भी नमक के रूप में प्लास्टिक तो नहीं खा रहे,हो जाएं सावधान,रिसर्च में हैरान करने वाले खुलासे

अगर आप पूरे दिन भर में कुछ मीठा ना भी खाएं तो भी चल जाता है लेकिन अगर आपने एक दिन भी नमक नहीं खाया तो लगता है कि जैसे उपवास पर है. लेकिन क्या आप जानते है कि आजकल नमक में भी मिलावट होने लगी है. आजकल के समय में लगभग हर खाने की चीज में मिलावट होने लगी है. ऐसे में भला नमक इससे कैसे अछूता रह सकता है. इस बात का खुलासा एक नई स्टडी में हुआ है. तमिलनाडु स्थित नेशनल सेंटर फॉर पोलर एंड ओशियन रिसर्च के द्वारा की गई एक अध्ययन के मुताबिक खाने के नमक में 100 से 200  माइक्रोप्लास्टिक के प्रकार मिले है. इस रिसर्च के लिए नमक का सैंपल गुजरात और तमिलनाडु से लिया था.

How Much Salt If Healthy - भोजन में नमक डालते वक्त हमेशा रखें इन बातों का ध्यान - Amar Ujala Hindi News Live

स्टडी के मुताबिक, 200 ग्राम गुजरात से लिए गए नमक के सैंपल में करीब 46-115 कण माइक्रोप्लास्टिक के पाए गए हैं. वहीं तमिलनाडु से लिए गए 200 ग्राम नमक के सैंपल में करीब 23-110  कण माइक्रोप्लास्टिक के मिले हैं. इन सैंपल्स में polyethylene, polyester और  polyvinyl chloride जैसे बेहद खतरनाक केमिकल भी मिले हैं जो शरीर के लिए बहुत खराब होते है. रिसर्च करने वाली प्रोफेसर विद्या साकर के मुताबिक, पूरे रिसर्च में पाए गए कण शरीर के लिए बहुत हानिकारक है और कई बीमारियों का कारण भी बन सकते हैं.

Watch: The huge problem of microplastic | Oceana

आपको बता दें कि माइक्रोप्लास्टिक वास्तव में प्लास्टिक के बहुत छोटे टुकड़े होते हैं. इन माइक्रोप्लास्टिक का आकार पांच मिलीमीटर से भी कम का होता है. पर्यावरण में प्रदूषण की वजह से ये हवा में मौजूद रहते हैं. अब हमें नमक खाने से पहले भी ये चेक कर लेना चाहिए कि हम नमक अच्छी क्वालिटी तो खा रहे हैं ना?