Flood in India: असम, बिहार और गुजरात में 21 लोगों की मौत, NDRF की कई टीमें तैनात

असम में बाढ़ के कारण मंगलवार को तीन और लोगों की मौत हो गई है.असम में बाढ़ की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है. हालांकि जानकारी के मुताबिक, असम के प्रभावित कुल 25 जिलों में से दो जिले- उदलगुरी और कामरूप में बाढ़ का पानी थोड़ा कम हुआ है.राज्य में बाढ़ से 15 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए है. जबकि कुल 25 लोगों की मौत हो चुकी है.इनमें से तीन लोगों की मंगलवार को मौत हो गई है, इनमें से दो बारपेटा जिले में और एक मौत डिब्रूगढ़ में हुई है.

राज्य के धेमाजी, लखीमपुर, विश्वनाथ, चिरांग, नलबाड़ी, बारपेटा, बोंगईगांव, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सालमारा, गोलपारा, कामरूप, मोरीगांव, होजई, नौगांव, गोलाघाट, जोरघाट, माजुली, शिवसागर, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया और पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिलों में बाढ़ की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है.

इस बीच, देश के कई राज्यों में भारी से भी ज्यादा भारी बारिश ने परेशानी बढ़ा दी है. इन सब के कारण 30 जून मंगलवार को गुजरात में आकाशीय बिजली गिरने से 7 लोगों की मौत हो गई है.

यहीं नहीं गुजरात के अलावा बिहार में भी आसमानी आफत ने कहर बरपा दिया है. बिहार में मंगलवार को अकाशीय बिजली के कारण 11 लोगों की मौत हो चुकी है. इसमें छपरा जिले में 5, पटना और नवादा में 2-2, लखीसराय और जमुई में 1-1 व्यक्ति की मौत हो गई है.

इसी बीच बिहार में नेपाल से सटे कई जिलों में बाढ़ के डर ने लोगों की नींद उड़ा दी है. राज्य के मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरंभगा और सीतामढ़ी के तराई वाले इलाके में लोगों की परेशानी बढ़ गई है. महानंदा, कमला बलान, कोसी और बागमती नदियां उफान पर बह रही हैं.

यही नहीं गंगा के बढ़ते जलस्तर से भी लोगों में डर बना हुआ है. बाढ़ के पानी से कई घर और पंचायत भी प्रभावित होने लगे हैं. गांव की सड़कों और घर भी डूब चुके है.इससे बाकी बचे घरों के लोगों में डर है जिससे उनके घर को अपने साथ बहा कर ले जाए ये डर बना हुआ है. यहां कई जिलों में बाढ़ की स्थिति बन गई है.