भोपाल : जान बचाने के लिए बिल्ली के बच्चों को थाने ले आई पुलिस, बोतल से पिलाई दूध

भोपाल :  अक्सर हम पुलिस उसके अच्छे या बुरे कामों से जुड़ी खबरों के लिए जानते हैं. कई बार पुलिस इंसानों की मदद करते हुए भी चर्चाओं में रहती है, लेकिन आज हम जिस खबर को लेकर आपके सामने आये हैं वो खबर थोड़ी हटके हैं. दरअसल पूरा मामला भोपाल का है. भोपाल पुलिस का एक अलग ही अंदाज देखने को मिला है. 

मिल रही जानकारी के मुताबिक़ भोपाल के रातीबड़ थाने में एक कॉल आई, कॉल करने वाला एक बच्चा था लेकिन पुलिस से बात की बच्चे के दादा ने, बच्चे के दादा ने पुलिस को सूचना दी कि उनके घर में एक बिल्ली में चार बच्चे को जन्म दी है, लेकिन बिल्ली  कहीं नजर नही आ रही है. शायद उसकी मौत हो गयी है. अब बिल्ली के इन बच्चों की जिन्दगी कैसे बचाई जाए?

ये भी पढ़ें :इतिहास के पन्नों मेंः भारतीय तैराक ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

इसकी जानकारी जब पुलिस तक पहुंची तो पुलिस के कुछ जवान बुजुर्ग व्यक्ति और कॉल करने वाले 7 साल के बच्चे के घर पहुंची और बिल्ली के चारों बच्चों की जिन्दगी बचाने और परवरिश करने के लिए पुलिस थाने ले आई.

थानाप्रभारी सुदेश तिवारी (TI Sudesh Tiwari) ने बताया कि रविवार को एक बहुत अलग मामला सामने आया. एक 7-8 साल के बच्चे ने मुझे फोन लगाया. उसने अपने 80 साल के दादा से भी बात कराई. उन्होंने बड़े दुखी मन से बताया कि उनके घर में बिल्ली ने चार बच्चे दिए हैं और बिल्ली की संभवतया मौत हो गई है. कृपया सहायता करें.

सूचना मिलने के बाद पुलिस बिल्ली के बच्चों को अपने घर ले आई और फिर उन्हें बोतल से दूध पिलाया और एक सुरक्षित डलिया में चारों बच्चों को रख दिया और उनकी देखभाल करने का जिम्मा उठाया. धीरे-धीरे ये बात भोपाल समेत पूरे देश में फ़ैल गयी और भोपाल पुलिस की जमकर तारीफ होने लगी. पुलिस का ऐसा मानवीय चेहरा देखकर हर कोई तारीफ कर रहा है.