सावधान:बड़े ऐस्टरॉइड के धरती से टकराने की संभावना अब 10 गुना ज्यादा

मानव सभ्यता के जन्म से पहले पृथ्वी से कई ऐस्‍टरॉइड टकरा चुके हैं और इससे तबाही भी देखी गई. कहा जाता है कि इन्हीं ऐस्टरॉइड में से एक Chicxulub ऐस्‍टरॉइड भी था. जिसके धरती से टकराने से आज से 6 करोड़ 60 लाख साल पहले धरती से डायनासोर विलुप्त हुए थे यानी हमेशा-हमेशा के लिए गायब हो गए.

Asteroid News Two huge asteroids are going to pass through Earth know Date  and what may be Effect

पृथ्वी पर ऐस्‍टरॉइड के टकराने की कितनी घटनाएं हुई हैं, इसको लेकर अनुमान लगाना मुश्किल हैं. लेकिन अब एक नए शोध में पता चला है कि विशाल ऐस्‍टरॉइड के धरती से टकराने की संभावना पहले की सोच से लगभग 10 गुना ज्यादा है. इसका मतलब ये है कि एक निश्चित समय के बाद पृथ्वी से Chicxulub के बराबर कोई बड़ा ऐस्‍टरॉइड के टकराने की संभावना अब 10 गुना ज्यादा बढ़ गई है.

साउथवेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं के अनुसार अगर धरती पर फिर से कोई बड़ा ऐस्‍टरॉइड टकराता है तो इससे न केवल भारी तबाही होगी, बल्कि वातावरण में ऑक्सिजन की मात्रा भी कम हो जाएगी. ऐसे में मानव जीवन के अस्तित्व पर खतरा बढ़ सकता है. हालांकि, वैज्ञानिकों का ये भी मानना है कि आने वाले 100 सालों में धरती को किसी बड़े ऐस्‍टरॉइड से कोई खतरा नहीं है.

10 अगस्त को धरती से टकराएगा एस्टेरॉयड, तबाह कर सकता पूरा एक देश -  Panchdoot, पञ्चदूत समाचार

वैज्ञानिकों के मुताबिक, ऐस्‍टरॉइड पृथ्वी के वायुमंडल में दाखिल होने के साथ ही टूटकर जल जाते हैं और कभी-कभी उल्कापिंड की शक्ल में धरती से दिखाई देते हैं. ये धरती को तभी नुकसान पहुंचा सकते है जब इनका आकार बड़ा हो, छोटे टुकड़ों से ज्यादा खतरा नहीं होता. वहीं, आमतौर पर ये सागरों में गिरते हैं क्योंकि धरती का ज्यादातर हिस्से पर पानी ही मौजूद है, वहां कोई आबादी नहीं रहती है इसलिए कोई खतरा भी नहीं होता…