रांची यूनिवर्सिटी के कैपस में डेढ़ एकड़ से अधिक जमीन पर बोटानिकल गार्डन का निर्माण

शोध को बढ़ावा देने के उद्देश्य से रांची यूनिवर्सिटी के कैपस में डेढ़ एकड़ से अधिक जमीन पर बोटानिकल गार्डन बनाया गया है . इस गार्डन में कई किस्म के पौधे लगाए हैं. जिसमें बॉस, पीपल, सिन्दूर और कई औषधीय पेड़ शामिल हैं. रांची यूनिवर्सिटी की कोशिश है कि भविष्य में महत्वपूर्ण रिसर्च सेंटर के रूप में संस्थान को पहचान मिल सके. इसके लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं.

Image result for रांची यूनिवर्सिटी का कैंपस में पेड़ पौधे

इसमें गार्डन की सबसे मुख्य बात ये है कि इसके निर्भाण के लिए यूनिवर्सिटी प्रसाशन को कोई पैसा खर्च नही करना पड़ा है. यूनिवर्सिटी के कुलपति डा. रमेश कुमार पाण्डेय की पहल पर सीएसआर के तहत सहयोग से इसका निर्माण किया गया है.

बनस्पति उद्यान का मलतब होता है जहाँ विभिन्न प्रकार के पौधे हो, साथ ही वस्पति से जुडी हुई शोध कार्य करने की सुविधा, व्यवस्था छात्र और शिक्षक को मिल सके. कुलपति ने बताया कि बोटानिकल गार्डन बनकर पूरी तरह तैयार हैं. सिर्फ सौन्दर्यीकरण का कार्य बचा हुआ है. इसका काम पूरा होने के बाद इस गार्डन का उद्घाटन किया जायेगा.