Corona: नई रिसर्च में चौंकाने वाला खुलासा, यहां पढ़े वैक्सीन से लेकर कोरोना अपडेट तक की सारी खबरें एक साथ

भारत में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है. भारत में कोरोना वायरस की एंट्री को 6 महीने पूरे हो गए हैं.लेकिन आए दिन अब हर रोज नए मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. पहली बार देश में एक दिन 50 हजार से ज्यादा मरीज मिले है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के गुरुवार को जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 52,123 मामले सामने आए हैं. ये पहली बार है जब कोरोना मामलों की संख्या एक दिन में 50 हजार के पार पहुंच गई है. इससे पहले सबसे ज्यादा 49,931 मामले 27 जुलाई को दर्ज किए गए थे. वही बीते 24 घंटे में 775 मौते दर्ज की गई है.ये मौत की संख्या ब्राजील, अमेरिका, मैक्सिको के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा है.

Coronavirus Vaccine Latest News: Research on at Oxford lab ...

इसके साथ ही देश में अब 15 लाख 83 हजार 792 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. जिनमें से 34 हजार 968 लोगों की मौत हो गई है, जबकि राहत की बात है कि 10 लाख 20 हजार 582 लोग ठीक भी हुए हैं.वही 5 लाख 28 हजार एक्टिव केस अभी भी है. इन आंकड़ों को देखे देश में अभी कोरोना के 33.35% एक्टिव केस हैं, 64.43% रिकवरी रेट है और 2.20% मृत्यू दर है.

ICMR के रिपोर्ट के मुताबिक,बुधवार को यानी मात्र एक दिन में 4 लाख 46 हजार कोरोना सेम्पल टेस्ट किए गए है. इसी के साथ देश में कोरोना टेस्टिंग का आंकड़ा 1 करोड़ 81 लाख 90 हजार 382 पहुंच गया है.

वही अगर बात दुनिया की करें तो दुनिया में संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 70 लाख के पार पहुंच गई है और 6 लाख 64 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है.

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कोरोना वायरस को लेकर ब्रिटेन में हुए अध्ययन में नया खुलासा हुआ है. इस खुलासे के अनुसार कोरोना वायरस का मरीज नौ दिनों के बाद संक्रमण नहीं फैला सकता. इसका मतलब अगर किसी को कोरोना हुआ है तो उससे सिर्फ नौ दिनों तक ही संक्रमण का खतरा है. यह खुलासा ब्रिटेन में 79 रिसर्च के बाद किया गया है.इस रिसर्च में कहा गया है कि नौ दिन बाद वायरस शरीर में मौजूद तो रहेगा लेकिन इससे प्रसार नहीं होगा.

इस बीच वैक्सीन को लेकर भी एक बड़ी और अच्छी खबर आ रही है रूस ने दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन लाने का प्लान बना लिया है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, रूस 10-12 अगस्त तक कोरोना वैक्सीन को रजिस्टर्ड कराने की योजना बना रहा है. रूसी विशेषज्ञ दुनिया में इसे कोरोना का पहला टीका होने का दावा कर रहे हैं. वही रूस के अलावा अमेरिका,चीन, ब्रिटेन और भारत समेत कई अन्य देश कोरोना वैक्सीन बनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं.