Corona Update: देश में बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 97,570 नए मामले, एक दिन में रिकॉर्ड 81,533 मरीज हुए ठीक

कोरोना का संक्रमण सबसे तेजी से भारत में फैल रहा है. आलम ये है कि यहां हर रोज अमेरिका से भी दोगुने-तीनगुने कोरोना के नए मामले सामने आ रहे है. हालांकि दुनिया भर में अभी संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में है. लेकिन अगर यही हालात रहे तो वो दिन दुर नहीं जब भारत दुनिया भर में कोरोना संक्रमण में पहले पायदान पर होगा. बीते 24 घंटें में भारत में कोरोना के रिकॉर्ड 97 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए है. ये अब तक का एक दिन में आया हुआ सबसे बड़ा उछाल है. वही देश में दो सितंबर से लगातार हर दिन एक हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है.

Qatar confirms two more coronavirus cases: Live updates | News | Al Jazeera

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटें में रिकॉर्ड 97 हजार 570 कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए है और 1 हजार 201 लोगों की मौत हो गई है. लेकिन अच्छी बात ये है कि बीते 24 घंटे में अबतक रिकॉर्ड 81 हजार 533 मरीज ठीक भी हुए हैं. इसी के साथ कुल ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 36 लाख 24 हजार हो गई है. वही देश में अब कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 46 लाख 60 हजार हो गई है. इनमें से मरने वालों की कुल संख्या 77 हजार 472 हो गई है. वही 9 लाख 58 हजार सक्रिय मामले अभी भी बने हुए है.

Coronavirus: Qatar Records Highest Single Day Increase 560 Cases

ऐसे में अगर इन आंकड़ो को देखे तो पता लगता है कि कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब 4 गुना अधिक है, जो की कोरोना काल में दिल को सुकुन देने वाली खबर है.

वही देश में मृत्यु दर गिरकर अब करीब 1.66 फिसदी हो गई है. इसके साथ ही एक्टिव केस रेट में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर घटकर 21 फिसदी हो गई है. वही रिकवरी रेट यानी ठीक होने वालों की दर भी लगातार सुधर रही है और देश में रिकवरी रेट 78% तक पहुंच गई है. ये अच्छी बात है कि देश में कोरोना से मृत्यु की दर दुनिया के औसत से कम है और इसमें लगातार गिरावट आ गई है. इसके साथ ही देश में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है.

ICMR के रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में 10 सितंबर तक कोरोना वायरस के 5 करोड़ 50 लाख से ज्यादा सैंपल टेस्ट किए गए. इनमें से सिर्फ कल गुरुवार को 11 लाख से ज्यादा सैंपल की टेस्टिंग की गई है.