Corona Update: देश में बीते 24 घंटे में ठीक हुए 93 हजार से ज्यादा मरीज, 87 हजार के पार नए केस, रिकवरी रेट 80%

कोरोना का संक्रमण सबसे तेजी से भारत में फैल रहा है. लेकिन अच्छी बात ये है कि भारत में अब कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने से अधिक ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है. वही भारत रिकवरी रेट बढ़ने के मामले में भी दुनिया भर में पहले स्थान पर बना हुआ है. देश में लगातार तीन दिनों से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या संक्रमितों से ज्यादा आ रही है. वही लगातार दो सितंबर से देश में एक हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौते हो रही है.

COVID-19: Cases In India Cross 700 | Kanlish News ' Online Karnataka, Local  News And Entertainment Channel'

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटें में 86 हजार 961 कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए है और 1 हजार 130 लोगों की मौत हो गई है. जबकि राहत देने वाली बात ये है पिछले 24 घंटें में 93 हजार 356 मरीज ठीक भी हुए है. देश में अब कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 54 लाख 87 हजार के आंकड़े को पार कर गई है. इनमें से मरने वालों की कुल संख्या 87 हजार 882 हो गई है. वही 10 लाख 3 हजार सक्रिय मामले अभी भी बने हुए है. हालांकि अच्छी बात है कि कुल ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 43 लाख 96 हजार हो गई है.

ऐसे में अगर इन आंकड़ो को देखे तो पता लगता है कि कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब 4 गुना अधिक है, जो की कोरोना काल में दिल को सुकुन देने वाली खबर है.

India records 97,570 coronavirus cases in a day. Tally crosses 46 lakh mark

वही देश में मृत्यु दर गिरकर अब करीब 1.60 फिसदी हो गई है. इसके साथ ही एक्टिव केस रेट में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर घटकर 19 फिसदी हो गई है. वही रिकवरी रेट यानी ठीक होने वालों की दर भी लगातार सुधर रही है और देश में रिकवरी रेट 80% तक पहुंच गई है. ये अच्छी बात है कि देश में कोरोना से मृत्यु की दर दुनिया के औसत से कम है और इसमें लगातार गिरावट आ गई है. इसके साथ ही देश में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है.

ICMR के रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में 20 सितंबर तक कोरोना वायरस के 6 करोड़ 43 लाख से ज्यादा सैंपल टेस्ट किए गए. इनमें से सिर्फ कल शनिवार को 7 लाख से ज्यादा सैंपल की टेस्टिंग की गई है.