Corona Update: भारत में 64 लाख के करीब संक्रमितों की संख्या, करीब 1 लाख लोगों की अबतक हो चुकी है मौत

भारत में कोरोना मरीजों की संख्या दुनिया में सबसे तेजी के साथ बढ़ रही है. देश में अबतक क़रीब 64 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके है.वही क़रीब एक लाख ज्लोगों ने अपनी जान गवां दी है. हालांकि अच्छी बात ये है कि यहां 53 लाख से ज्यादा लोग ठीक भी हो चुके है. इसके साथ ही देश में एक्टिव केस की संख्या घटकर 10 लाख से कम हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक,बीते 24 घंटें में देश में 81 हजार 484 कोरोना के नए मामले सामने आए है और 1 हजार 95 लोगों की मौत हो गई. देश में लगातार 2 सितंबर के बाद से हर रोज कोरोना से एक हजार से ज्यादा लोगों की मौते हो रही है. लेकिन राहत की बात है कि पिछले 24 घंटें में 78 हजार 877 मरीज ठीक भी हुए है.

Coronavirus in India latest Update: नहीं लग रहा कोरोना संक्रमण पर ब्रेक, 24  घंटे में 22 हजार से ज्यादा नए मामले, 6.50 लाख के करीब लोग संक्रमित -  Coronavirus in india live

इसके साथ ही देश में अब कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 63 लाख 94 हजार हो गई है. इनमें से मरने वालों की कुल संख्या 99 हजार 773 हो गई है. वही 9 लाख 42 हजार सक्रिय मामले अभी भी बने हुए है. हालांकि अच्छी बात है कि कुल ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 53 लाख 52 हजार हो गई है.

ऐसे में अगर इन आंकड़ो को देखे तो पता लगता है कि कोरोना संक्रमण के सक्रिय मामलों की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब 5 गुना अधिक है, जो की कोरोना काल में दिल को सुकुन देने वाली खबर है.

India Coronavirus Updates: 39173 people were cured after treatment more  than three thousand died

वही देश में मृत्यु दर गिरकर अब करीब 1.56 फिसदी हो गई है. इसके साथ ही एक्टिव केस रेट में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर घटकर 15 फिसदी हो गई है. वही रिकवरी रेट यानी ठीक होने वालों की दर भी लगातार सुधर रही है और देश में रिकवरी रेट 83% तक पहुंच गई है. ये अच्छी बात है कि देश में कोरोना से मृत्यु की दर दुनिया के औसत से कम है और इसमें लगातार गिरावट गई है. इसके साथ ही देश में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है.

ICMR के रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में 1 अक्टूबर तक कोरोना वायरस के 7 करोड़ 67 लाख से ज्यादा सैंपल टेस्ट किए गए. इनमें से सिर्फ कल 11 लाख से ज्यादा सैंपल की टेस्टिंग की गई है.