कोरोना अपडेट: क्या कोरोना की इस लहर से हो जाएगी पूरी दुनिया ख़त्म! फ़्रांस में पुष्टि, जाने पूरी खबर

दुनिया भर में तबाही मचाना वाला कोरोना जो अभी तक कतम नही हुआ था वो एक बार फिरसे एक नये रूप में सामने आ रहा हैं जिन हाँ अपने बिलकुल सही सुना हैं. आपको बता दें की फ्रांस में कोरोना वायरस की पांचवीं लहर के आने की खबरें सामने आ रही हैं.

Egypt's coronavirus tally rises to 5,511; death toll at 879 | World News –  India TV

कहने को तो इस कोरोना रूपी सांप को चीन ने पाल पोसकर बड़ा किया हैं लेकिन अब ये सांप चीन के साथ साथ पूरी दुनिया को दंस रहा हैं. दुनिया भर में तबाही मचाने वाले इस सांप और चीन ने हर एक देश की नाक में दम कर रखा हैं. अभी तक भी कोरोना रूपी इस सांप को ख़त्म का तरीका पूरी दुनिया में कोई भी नही ढूंड पाया हैं लेकिन इससे लड़ने के तरीके जरुर ढूंढे हैं. लेकिन ये काफी नही हैं क्योकि ये सांप अभी किसी न किसी देश में अपना फन उठा रहा है.

हाल ही में फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि देश में कोरोना महामारी की पांचवीं लहर के शुरुआत की पुष्टि हो गयी है. साथ ही बताया कि इससे पहले हमारे सभी पड़ोसी देशों में भी पांचवीं लहर आ चुकी है. उन्होंने यह भी बताया की पड़ोसी देशों के डेटा को देखकर लग रहा है कि यह पिछली लहरों की मुकाबलें इस बार ज्यादा गंभीर हो सकती है. इसीलिए हमारी लोगों से अपील हैं कि वो कोविड के सभी प्रोटोकॉलस का नियमित रूप से पालन करें. साथ ही ज्यादा से जयादा वैक्सीनेशन और स्वच्छता उपायों के साथ हम पांचवीं लहर को कमजोर बना सकते हैं. उन्होंने विश्वाश भी जताया कि हो सकता हैं की हम उसे पूरी तरह से हरा दें.

WHO Urges Europe to Take 'Boldest' Actions against COVID-19 Epidemic |  Asharq AL-awsat

आपकी जानकारी के लिए बता दें की अभीतक फ्रांस में कोरोना संक्रमण के 73.46 लाख से ज्यादा कोरोना केस दर्ज किए जा चुके हैं. तो वहीं बात अगर मौतों की करे तो अभीतक कोरोना के कारण फ्रांस में 1.19 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अब यहाँ बात भारत की करे या किसी और देश की लेकिन अभीतक कोरोना की दूसरी लहर ही ज्यादा खतरनाक साबित हुई हैं.

कोरोना वायरस से कहीं ज़्यादा जानलेवा था ये 'फ़्लू' - BBC News हिंदी

पहले आई महामारी बनी उदाहरण

हमे मिली जानकारी के अनुसार सन 1918 से 1920 के बीच स्पैनिश फ्लू के कारण दुनियाभर में करीब 50 करोड़ लोग संक्रमित हुए थे. जिससे करीब पांच करोड़ लोगों की मौत हुई थी. आपको बता दें इस महामारी ने भी दूसरी लहर में ज्यादा तबाही मचाई थी.

Coronavirus Follows Dangerous Spanish Flu Spread Over 100 Years Ago - 100  साल पहले फैली थी कोरोनावायरस से भी खतरनाक बीमारी, मारे गए थे करोड़ों लोग -  Amar Ujala Hindi News Live

आकड़ों के अनुसार देखा जाये तो इस साल जो देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से ज्यादा प्रभावित हुए हैं वो यूरोपियन देश हैं. इसमें ब्रिटेन, फ्रांस, बेल्जियम, इटली, नीदरलैंड्स, स्पेन और स्वीडन शामिल हैं. बात यहीं खत्म नही होती हैं, अब बात अमेरिका की करते हैं अमेरिका में पिछले साल अक्टूबर से दिसंबर के बीच कोरोना की दूसरी लहर के कारण लाखों लोगों ने अपनी जिन्दगी गवां दी.

हमारा आप सभी से निवेदन हैं की आप लोग कोरोना के सभी नियमो का पालन करे और अपने साथ साथ अपने परिवार का भी ख्याल रखे.