Corona Update: 24 घंटे में सबसे ज्यादा नए मामले आए सामने, दुनिया का चौथा प्रभावित देश बना भारत

पूरे देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. बीते 24 घंटे में करीब 11 हजार नए मामले सामने आए और करीब 400 लोगों की मौत हो गई है. एक दिन में कंफर्म केस और मौत का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से शुक्रवार सुबह जारी ताजा अपडेट के अनुसार, पिछले एक दिन में रिकॉर्ड 10 हजार 956 कोरोना के नए मामले सामने आए और रिकॉर्ड 396 मौत हुईं हैं. इसके साथ ही देश में अब कुल कोरोना मरीजों की संख्या 2 लाख 97 हजार 535 हो गई है, इनमें से 8 हजार 498 लोगों की जान चली गई है. जबकि एक लाख 47 हजार लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके है.देश में अब एक्टिव केस की संख्या 1 लाख 41 हजार 842 है.

यहां आपको ये भी बता दें कि देश में लगातार आठ दिनों से 9,500 से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं. इसके साथ ही भारत कोरोना वायरस के मामलों के हिसाब से शुक्रवार को ब्रिटेन को पीछे छोड़ दिया और दुनिया का चौथा सबसे प्रभावित देश बन गया है.वैसे तो भारत में कोरोना का डेथ रेट दुनिया में सबसे कम बताया जा रहा है लेकिन लगातार बढ़ते कोरोना के मामले आने वाले दिनों में और खराब हालात पैदा हो सकते है इसके तरफ इशारा कर रहे है.

वही भारत में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र हैं. चलिए यहां देश के प्रभावित राज्यों पर एक नजर डालते है-

महाराष्ट्र

राज्य में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 97 हजार 648 पहुंच गई है, इनमें से 3 हजार 590 लोगों की मौत हो गई  है. जबकि राहत की बात है कि यहां जानलेवा कोरोना वायरस से अब तक 46 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं, वही करीब 48 हजार एक्टिव केस अब भी है.

दिल्ली

बीते 24 घंटे के अंदर 1800 से अधिक नए केस आए हैं. इसके साथ ही कुल मरीजों का आकंड़ा 34 हजार 687 हो गई है, वही 1085 लोगों की मौत हो चुकी है.यहां अब तक 12 हजार 731 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं, जबकि 20 हजार 871 एक्टिव केस है.

उत्तर प्रदेश

प्रदेश में मरीजों का आंकड़ा 12 हजार के पार पहुंच गया है.वही 345 लोग जान गंवा चुके हैं.लेकिन राहत की बात ये है कि यहां एक्टिव केस की संख्या, ठीक होने वाले केस की संख्या से कम है. यूपी में अभी 4 हजार 451 एक्टिव केस है, जबकि 7 हजार 292 लोग इस बीमारी से जंग जीतकर अपने घर जा चुके हैं.

यहां आपको ये भी बता दें कि देश में जानलेवा कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 5 राज्यों को आगाह किया है. केंद्र सरकार की तरफ से बताया गया है कि जून से अगस्त के बीच तमिलनाडु, महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, उत्तरप्रदेश में कोरोना के गंभीर रोगियों के लिए आईसीयू और वेंटिलेटर की कमी पड़ने की संभावना है.

रिपोर्ट के अनुसार, आने वाले दिनों में वेंटिलेटर, आइसोलेशन बेड और ऑक्सीजन की कमी पड़ सकती है. ऐसे में कहा जा रहा है कि प्रदेशों को आगे की स्थिति के बारे में केंद्र सरकार द्वारा आगाह किया जा रहा है जिससे वो पहले से ही पूरी तैयारियां करके रख सकें.