कोरोना को लेकर अभिताभ बच्चन ने किया झूठा ट्वीट, लोगों ने दिया करारा जवाब

कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में हडकंप मचा हुआ है. भारत में भी कई राज्य और शहर लॉकडाउन कर दिए गये हैं . 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आह्वान किया गया था, जिसे लोगों ने सफल बनाने में कोई कसर नही छोड़ी. लेकिन बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट ऐसा कर दिया जो लोगों को बिलकुल पसंद नही आया और लोगों ने बच्चन को करारा जवाब भी दिया है.

दरअसल इंटरनेट पर ये खबर चल रही थी कि ताली बजाने से कोरोना वायरस खत्म होता है. ये खबर गलत थी लेकिन अमिताभ बच्चन ने इसके फेक होने पर ध्यान ना देते हुए ट्वीट कर दिया. अमिताभ ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘एक सलाह दी गई है. 22 मार्च अमावस यानी महीने की सबसे काली रात है. इसमें वायरस, बैक्टीरिया, बुरी और काली शक्तियां सबसे ज्यादा ताकतवर होती हैं. शंख बजाने से वायरस कमजोर पड़ता है और कम होता है. चांद रेवती नक्षत्र में जा रहा है. इससे खून का बहाव अच्छा होता है.’

लेकिन अमावस 22 मार्च की नहीं बल्कि 24 मार्च की है. साथ ही ताली या शंख बजाने से कोरोना वायरस इन्फेक्शन खत्म नहीं होता इसके बाद कई लोगों ने अमिताभ बच्चन की खिंचाई करनी शुरू कर दी. किसी ने कहा फेक न्यूज तो किसी ने तंज भी कसा.

हालाँकि जैसे ही अमिताभ बच्चन को अपनी गलती का एहसास हुआ उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया. ऐसा नही कि इस तरह की गलती पहली बार किसी से हुई है. आप अपना ध्यान रखिये, सुरक्षित रहिये. लॉकडाउन में अपना सहयोग दीजिये,