CORONAVIRUS UPDATE :

भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. जिसकी वजह से लोगों की चिंताएं बढ़ गयी हैं. देश में इस वायरस के अबतक 1100 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. वहीँ बा इस मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने सरकार को सुझाव दिए हैं और कोरोना को लेकर सरकार को पहले घेरने वाले राहुल गाँधी ने सरकार से मांग की है.

कांग्रेस पार्टी की ओर से सोमवार को ट्विटर पर लिखा, ‘कोरोना महामारी गंभीर स्थिति में पहुंच चुकी है. लेकिन, इससे भयभीत होने के बजाय समझदारी से काम लेने की आवश्यकता है. सरकार को रणनीतिक स्तर पर इससे निपटने की जरूरत है.’ इसी ट्वीट के साथ कुछ सुझाव भी साझा किए गए.

– सामाजिक सुरक्षा को मजबूत करें, हर सार्वजनिक संसाधन का उपयोग करें.

– कामकाजी गरीबों को सहायता और आश्रय दें.

– बेड और वेंटिलेटर से सुसज्जित अस्पतालों की स्थापना.

– आवश्यक उपकरणों का निर्माण.

– वास्तविक स्थिति का पता लगाने के लिए जांच बढ़ाएं.

इसी के साथ राहुल गांधी ने कोरोना के टेस्ट बढ़ाने को भी कहा है, क्योंकि अबतक देश में काफी कम टेस्ट हो पाए हैं. बता दें कि देश में अभी तक कोरोना वायरस के टेस्ट के लिए करीब 100 से अधिक सरकारी लैब काम कर रही हैं, हालांकि अभी सभी सुचारू रूप से नहीं चल रही हैं. अभी तक करीब 25 हजार टेस्ट देश में हो चुके हैं.

कुछ वक्त पहले राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस मसले पर खत भी लिखा था और कहा था कि कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में सरकार के साथ खड़े हैं. इसी के साथ राहुल गांधी ने सरकार को कुछ सुझाव भी दिए थे.

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए हम सभी को साथ आने की जरूरत है. ये लड़ाई किसी एक इंसान की नही है बल्कि ये प्रत्येक इंसान की लड़ाई है.