Cyclone Amphan Live :यहाँ जानिये कितना खतरनाक हैं आने वाला तूफ़ान, अलर्ट जारी

चक्रवाती तूफान एमफन (Cyclone Amphan) लगातर तट की तरफ आगे बढ़ रहा है. इस चक्रवात के ओडिशा और पश्चिम बंगाल तट से टकराने की आशंका है. ऐसे में इन राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में मौसम का मिजाज अभी से ही बदल गया है. रविवार शाम से ही इन इलाकों बारिश शुरू हो जाएगी. जबकि 18 से 20 मई के बीच ये तूफान कभी भी तट से टकरा सकता (Landfall) है. दो दिन पहले से बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पूर्व में कम दबाव का एक क्षेत्र देखा जा रहा था. अब ये तूफान का रुप ले चुका है.

12 जिलों में अलर्ट: अगले कुछ घंटे में ये तूफान खतरनाक रूप ले सकता है. ओडिशा के 12 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. साथ ही तटवर्ती इलाकों को खाली कराया जा रहा है. ओडिशा और बंगाल के अलावा 8 जिलों को अलर्ट पर रखा गया है.

कब होगा लैंडफॉल: 20 मई दोपहर के आसपास ये तूफान पश्चिम बंगाल के द्वीप सागर और बांग्लादेश के हातिया द्वीप के बीच टकरा सकता है

फिलहाल कहां पहुंचा है तूफान?
मौसम विभाग ने रविवार सुबह 11 बजे तूफान को लेकर ताजा बुलेटिन जारी किया है. इसके मुताबिक ये तूफान फिलहाल बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पूर्व में है और ये उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ रहा है. हवा की रफ्तार इस वक्त 3 किलोमीटर प्रतिघंटा है. तट से इसकी दूरी का हिसाब लगाया जाय तो ये ओडिशा के पारादीप से 990 किलोमीटर दक्षिण में है. जबकि पश्चिम बंगाल के दीघा से इसकी दूरी 1260  किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की तरफ है.

LIVE Cyclone Amphan News Update : अगले कुछ घंटों में खतरनाक हो सकता है चक्रवाती तूफान Amphan, इन राज्यों में मंडराया खतरा

अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में आने वाले समुद्री तूफानों के नाम रखने का सिलसिला 15 साल पहले यानी 2004 में शुरू हुआ। इसके लिए एक सूची बनाई गई। इस सूची में आठ देश शामिल हैं। आठ देशों को क्रमानुसार आठ नाम देने हैं। जब जिस देश का नंबर आता है तो उस देश की सूची में दिए गए नाम के आधार पर उस तूफान का नामकरण कर दिया जाता है। इनमें बांग्लादेश, भारत, मालदीव, म्यांमार, ओमान, पाकिस्तान, श्रीलंका और थाईलैंड शामिल हैं। हर देश ने आठ नाम दिए हैं। इस तरह कुल 64 नाम तय किए गए हैं। इस बार चक्रवाती तूफान के नामकरण की बारी थाईलैंड की थी। थाईलैंड ने इसका नाम अम्फान रखा है।

200 किलोमीटर प्रति घंटा से चलेंगी हवा की रफ्तार

अम्फान तूफान आनेवाले दिनों में कितना घातक रूप ले सकता है इसका अंदाजा इसकी रफ्तार से लगाएं। बताया जा रहा है कि 19 मई तक इसकी रफ्तार 200 किलोमीटर प्रति घंटा की हो सकती है। इसकी वजह से ओडिशा, बंगाल में दो दिनों तक भारी बारिश भी होगी। 20 मई तक यह दोनों राज्यों को पार करेगा। चक्रवाती तूफान की गति और क्षमता को देखते हुए राज्य सरकार ने आज दिन में केन्द्र सरकार से अनुरोध किया कि वह अम्फान के रास्ते से होकर गुजरने वाली सभी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को अस्थाई रूप से स्थगित कर दे।