वज्रपात से लोगों को बचाने के लिए डीसी ने चलाया जागरूकता अभियान

रामगढ़: रामगढ़ जिले में लगातार बारिश हो रही है। इस दौरान कई स्थानों पर वज्रपात भी हो रहा है। अभी धान की फसल लगाने का भी समय है। इस वजह से सैकड़ों किसान पूरे दिन खेतों में ही रहते हैं। शुक्रवार को डीसी संदीप सिंह ने बताया कि इस अभियान के तहत लोगों को बताया जा रहा है कि वज्रपात से बचने के लिए मजबूत छत वाला पक्का मकान सबसे अधिक सुरक्षित है। बरसात के दौरान लोग बिजली से चलने वाले उपकरण को बंद रखें, इससे घरों पर बिजली गिरने की संभावना कम रहेगी।

यदि किसी वाहन पर सवार हैं तो तुरंत सुरक्षित जगह चले जाएं, टेलीफोन, बिजली के पोल के अलावा टेलीफोन और टीवी टावर से दूर रहें, कपड़ा सुखाने के लिए तार का प्रयोग ना कर जूट या सूत की रस्सी का उपयोग करें। सुनसान इलाके में बारिश के दौरान किसी पेड़ के नीचे नहीं जाएं, यदि जंगल में हैं, तो कम ऊंची पेड़ और घने पेड़ों के नीचे ही ठहरें। डीसी ने बताया कि गीले खेतों में काम करने वाले किसानों को बारिश के दौरान सूखे स्थान पर चले जाना चाहिए। ताकि वह वज्रपात की चपेट से दूर रहें। आंधी-बारिश व तूफान बंद होने के तत्काल बाद घर से बाहर न निकलें। देखा गया है कि बादल गर्जन व तेज बारिश के होने के 30 मिनट बाद तक बिजली गिरती है। अगर कहीं कोई तेज बारिश में फंस जाएं तो अपने हाथों को घुटनों पर और सिर को घुटनों के बीच में रखें, इससे शरीर को कम नुकसान होगा।