दिल्ली : यमुना के जहरीले पानी में स्नान करने को मजबूर हुए छठ व्रतधारी

आज यानि सोमवार से छठ महापर्व की शुरुआत हो गयी हैं. इसी कड़ी में देश की राजधानी दिल्ली से कुछ ऐसी तस्वीरे सामने आ रही हैं जिन्हें देखने के बाद आप हैरान हो जायेगें. दरअसल दिल्ली में बहने वाली यमुना नदी में जहरीले झाग के बीच छठ व्रतधारी स्नान करते दिखाई दे रहें हैं. चलिए जानते हैं इस पूरी घटना के बारें में.

आप सभी ये जानते ही हैं की हमारे देश में दीपावली के 6 दिन बाद कार्तिक मास की छठी तिथि को छठ का पर्व मनाया जाता है. चार दिन मनाये जाने वाले यह छठ पर्व लोगों के लिए बहुत जरूरी और इसको लेकर लोगों में श्रद्धा बहुत ज्यादा हैं. छठ पर्व का आज पहला दिन हैं जिसमे आज के दिन नहाय-खाय की परम्परा हैं. उसके बाद दूसरे दिन खरना की परम्परा होती हैं. फिर तीसरे और चौथे दिन क्रमश: अस्त होते और उदय होते सूर्य को नदी या तालाब में खड़े होकर अर्घ्य दिया जाता हैं.

Benefits Of Chat Parv - छठ पर्व से मिलता है यह 6 लाभ, जानेंगे तो यकीन आप भी  करेंगे - Amar Ujala Hindi News Live

इसी कड़ी में दिल्ली के छठ घाटों से जो तस्वीरें सामने आ रहीं हैं वो हैरान कर देने वाली हैं. यहां की यमुना नदी में जहरीला झाग या गाद जमा हो गया है और इसी के बीच में श्रद्धालुओं को स्नान करना पड़ा. न्यूज एजेंसी के मुताबिक, कालिंदी कुंज इलाके में यमुना नदी में जहरीला झाग तैर रहा हैं. लेकिन इसी झाग के बीच छठ व्रतधारी स्नान कर रहे हैं. जो बेहद लोगों के लिए घातक सिद्ध हो सकता हैं.

no worship allowed at chhath ghats in jharkhand during chhath puja 2020 :  झारखंड में भी कोरोना काल में छठ पूजा के लिए गाइडलाइंस जारी - Navbharat Times

अभी तक कोरोना के चलते दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने यमुना नदी के किनारे छठ पूजा की अनुमति नहीं दी है. जानकारी के मुताबिक यमुना नदी में अमोनिया का लेवल बढ़ गया है. जिसकी वजह से नदी में तरह से झाग बन रहें हैं. आपको बता दे की अमोनिया लेवल बढ़ने से पानी की सप्लाई भी बाधित हो रही है.

मुद्दे को लेकर सियासत हुयी गर्म
यमुना में झाग के बीच स्नान करने की तस्वीरें सामने आने के बाद सियासत भी तेज हो गई है. बीजेपी के नेता अमित मालवीय ने ट्वीट कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को घेरने की कोशिश की है. वहीं, बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने भी केजरीवाल सरकार को घेरते हुए कहा कि इसी वजह से यमुना किनारे छठ पूजा मनाने पर रोक लगाई थी.

 

STORY BY – UPASANA SINGH