दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन को बड़ी मिली राहत

नई दिल्ली: जस्टिस विपिन सांघी की अध्यक्षता वाली बेंच ने इमरान हुसैन के खिलाफ ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी को लेकर दायर याचिका खारिज कर दी है।  सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार ने कोर्ट को बताया कि इमरान हुसैन को दिल्ली के कोटे से ऑक्सीजन नहीं दी गई और ना ही कोई रिफिलर है जिससे ऑक्सीजन भरवा सकें। दिल्ली सरकार की ओर से वकील राहुल मेहरा ने कहा कि इमरान हुसैन ने 10 ऑक्सीजन सिलेंडर दिल्ली से किराए पर लिये थे और उन्हें फरीदाबाद से रीफिल कराकर यहां अपनी विधानसभा में लोगों के बीच ऑक्सीजन बांटी। कोर्ट ने नोट किया कि इमरान हुसैन ने 10 ऑक्सीजन सिलेंडर किराए पर लिये थे जिससे जुड़े कागजात कोर्ट के सामने रखे हैं। इसके अलावा उन्होंने ऑक्सीजन भरवाने से जुड़ी रसीदें भी दी हैं। कोर्ट ने कहा कि अगर नियम या कानून का उल्लंघन नहीं हुआ है तो अपना काम जारी रख सकते हैं।