दिल्ली सरकार की बढ़ी टेंशन, कंट्रोल में नही आ रहा है कोरोना वायरस का संक्रमण

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना कहर बरपा रहा है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 7546 नए मामले सामने आए. पिछले 24 घंटे में ही कोरोना से 98 लोगों की जान चली गई. इस वक्त दिल्ली में 43,000 से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस हैं. प्राइवेट अस्पतालों के आईसीयू में 80 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व रखने के फैसले पर अब सख्ती से अमल होगा. प्राइवेट अस्पतालों के नॉन-आईसीयू बेड 60 फीसदी तक रिजर्व कर लिए गये हैं.

वहीँ नॉएडा से दिल्ली आने जाने वाले लोगों का रैंडम टेस्ट करवाए जाने का फैसला लिया गया था औरब इसी तर्ज पर दिल्ली-फरीदाबाद बॉर्डर पर भी रैंडम कोरोना टेस्ट किया जाएगा. इसकी शुरुआत आज दोपहर 2 बजे होगी. स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि रैंडम सैंपलिंग के जरिए कोरोना के प्रसार को काफी हद तक रोका जा सकता है. वहीँ दिल्ली – नोएडा बॉर्डर पर कोरोना का रैंडम टेस्ट करने की शुरुआत हो चुकी है. इस अभियान के दूसरे दिन (गुरुवार) को 178 लोगों की जांच की गई, जिसमें 9 लोग पॉजिटिव पाए गए..

वहीँ दिल्ली में कोरोना संक्रमण पर कंट्रोल करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच हुई बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया था कि एम्स, दिल्ली सरकार और नगर निगमों की टीमें शहर में सर्वेक्षण करेंगी और इस दौरान लक्षणों से ग्रस्त पाए गए सभी लोगों को जांच के बाद जरूरी इलाज मुहैया कराया जाएगा।


वहीँ गुजरात में कोरोना का कहर जारी है. इस वजह से अहमदाबाद प्रशासन ने नाईट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है. 57 घंटे के कर्फ्यू की घोषणा के बाद अहमदाबाद के मार्केट में जबरदस्त भीड़ देखने को मिली. बड़ी तादाद में लोग पैनिक खरीदारी कर रहे हैं. कोरोना के बढ़ते मामले की वजह से अहमदाबाद में आज रात से सोमवार सुबह 6 बजे तक कर्फ़्यू लगाया गया है.