ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस ने क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को किया गिरफ्तार

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बेंगलुरु से 21 वर्षीय क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को अरेस्ट किया है. 21 साल की यह एक्टिविस्ट फ्राइडे फ़ॉर फ्यूचर कैम्पेन की फॉउंडरों में से एक हैं. बता दें कि 4 फरवरी को दिल्ली पुलिस ने टूलकिट को लेकर अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था. आरोप है कि एक्टिविस्ट दिशा रवि ने ही किसान आंदोलन से जुड़ी टूलकिट को एडिट किया था और उसे आगे भेजा था.

Image result for ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस ने क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को किया गिरफ्तार

गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने दिशा रवि को दिल्ली की एक कोर्ट में पेश किया. पुलिस ने इस दौरान 7 दिन की रिमांड की मांग की. लेकिन कोर्ट ने 5 दिन की कस्टडी में दिशा रवि को भेज दिया है.

दिल्ली पुलिस के अनुसार, इस ‘टूलकिट’ का मकसद खलिस्तानी ग्रुप को दोबारा खड़ा करना और भारत सरकार के खिलाफ एक बड़ी साजिश रचना है. पुलिस ने कहा कि इन्होंने टूलकिट को एडिट किया है और हजारों लोग इसमें शामिल हैं. दिल्ली पुलिस का आरोप है कि दिशा रवि ने 3 फरवरी को टूलकिट एडिट किया था. पुलिस ने दिशा रवि का फोन जब्त कर लिया है लेकिन डेटा डिलीट बताया जा रहा है.केस केवल ‘टूलकिट’ के क्रिएटर्स के खिलाफ दर्ज की गई है. इस मामले को लेकर आपराधिक साजिश, राजद्रोह और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. दिल्ली पुलिस की साइबर इस मामले की जांच कर रही है.

Image result for ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस ने क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को किया गिरफ्तार

वहीं इस मामले पर दिशा रवि का कहना है कि मैंने 2 लाइन एडिट किया था. मैंने किसानों के सपोर्ट में किया था, जो अन्नदाता हैं, उनके आंदोलन से मैं प्रभावित थी. फिलहाल कोर्ट ने दिशा को 5 दिन की पुलिस रिमांड भेज दिया है. पुलिस आगे की जांच में जुट गई है.

बता दें कि दिल्ली पुलिस गणतंत्र दिवस पर हुई लाल किले हिंसा के साथ-साथ टूलकिट मामले की भी जांच कर रही है.