मंकी पॉक्स और कोरोना के बाद, डेंगू ने उड़ाई दिल्ली वालो की नींद

देश की राजधानी दिल्ली में जहा एक तरफ कोरोना और मंकी पॉक्स के मामले लगातार बढ़ रहे है वही अब डेंगू ने भी दिल्ली वालो को डरना शुरू कर दिया है। देश की राजधानी दिल्ली में मच्छरों से फैलने वाली बीमारी डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। कई लोग इसकी चपेट में आ गए हैं। MCD ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है की दिल्ली में इस साल 30 जुलाई तक डेंगू के लगभग 170 मामले सामने आए हैं, जो 2017 के बाद से इस अवधि के लिए सर्वाधिक हैं। इसके साथ ही शहर में जनवरी में डेंगू के 23 मामले, फरवरी में 16, मार्च में 22, अप्रैल में 20, मई में 30 और जून में 32 मामले दर्ज किए गए। दिल्ली में डेंगू की यह संख्या पिछले पांच साल से ज्यादा है, जबकि इस साल मॉनसून की बारिश भी उतनी अच्छी नहीं हुई है।

इस साल दर्ज हुए रिकॉर्ड मामले

दिल्ली में इस साल 170 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। वहीं सिर्फ जुलाई में 16 मामले दर्ज किए गए। एमसीडी द्वारा सोमवार को जारी की गई मच्छरजनित बीमारियों की साप्ताहिक रिपोर्ट से पता चला है कि दिल्ली में डेंगू के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। नजफगढ़ और पश्चिमी दिल्ली में सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं।

2017 में 1 जनवरी से 30 जुलाई तक आए थे 185 मामले

साल 2017 में दिल्ली में 1 जनवरी से 30 जुलाई तक अवधि के दौरान 185 मामले दर्ज किए थे. इसके साथ ही पिछले साल 2021 में 1 जनवरी से 30 जुलाई के बीच दिल्ली में डेंगू के मामलों की संख्या 52 थी. इतना ही नहीं साल 2020 में 31, 2019 में 40, 2018 में 56 मामले दर्ज हुए थे. हालाकिं एमसीडी की रिपोर्ट में बताया गया है कि इस साल अब तक इस बीमारी से किसी की मौत नहीं हुई है। इस साल के शुरुआत में निकल रहे इन केसों को देखकर एमसीडी के अधिकारियों ने बताया कि इस साल की शुरुआत में डेंगू के बढ़ते मामलों के पीछे मौसम की स्थिति पर रही है. क्योंकि शुरुआती मौसम मच्छरों के प्रजनन के लिए अनुकूल रहा है।

मच्छरों के खिलाफ जागरूकता अभियान

मामलों को देखते हुए एमसीडी ने जन जागरूकता अभियान तेज कर दिया है। जिसके  तहत घरों का दौरा कर मच्छर रोधी दवा का छिड़काव किया जा रहा है।

डेंगू कैसे होता है और इसके लक्षण

डेंगू का बुखार एडीस मच्छर के काटने से होता है. इसके बाद पूरे शरीर में दर्द होना शुरू हो जाता है. जुलाई से लेकर अक्टूबर के महीने में लगातार बारिश होने के कारण मच्छर पनपते हैं. वैसे ये मच्छर साफ पानी में ही पनपते हैं. इन मच्छरों का प्रकोप ज्यादातर दिन के वक्त ही होता है. एडीज मच्छर 3 फीट से ज्यादा ऊंचाई पर नहीं उड़ पाते हैं.