क्या आप वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाले इस आम के बारें में जानते है? 4.25 किलोग्राम है वजन

फलों का राजा आम..आम नहीं होता है बल्कि सबके लिए खास होता है.गर्मियों का मौसम आते ही सबके जुंबा पर बस एक ही फल का नाम आता है और वो है मेंगों यानी आम. आम कई तरीके के होते है लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि किसी एक आम का वजन 4 किलोग्राम से भी ज्यादा का हो. नहीं न आपने ज्यादा से ज्यादा बहुत बड़ा आम भी लिया होगा तो उसका वजह एक या दो किलो तक होगा. लेकिन आपको बता दें कि दुनिया में 4 किलो से भी ज्यादा वजन का एक आम मौजूद है. यही वजह कि इस आम का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है. ये आम दुनिया का सबसे भारी आम है.तो चलिए इस आम के बारें मे और भी कई रोचक बाते जानते है….

Does Eating Mango Make You Gain Weight - News Nation

इस आम को कोलंबिया में गुआयाता स्थित सैन मार्टिन फार्म में उगाया गया है. इस आम को उगाने वाले इस फार्म के मालिक है जर्मन ऑरलैंडो नोवोआ बरेरा और उनकी पत्नी रीना मारिया मारोक्विन. इन दोनों ने मिलकर सबसे भारी आम उगाने का रिकॉर्ड बनाया है. इस एक आम का वजन 4.25 किलोग्राम का है. इसके पहले ये रिकॉर्ड फिलिपींस के नाम था. साल 2009 यहां 3.435 किलोग्राम का एक आम उगाया गया था.

फार्म के मालिक जर्मन ऑरलैंडो ने इस आम के बारे में बताया कि जब उन्होंने भी ये आम देखा तो उन्हें खुद यकीन नहीं हुआ और वो हैरान रह गए. क्योंकि इस एक आम का वजन 4.25 किलोग्राम था. उन्होंने कहा कि ये उसी पेड़ में मौजूद अन्य आमों के मुकाबले काफी तेजी से बड़ा हो रहा था. ऐसे में ये बात दोनों ने अपनी बेटी डेबेजी को बताई. तब जाकर डेबेजी ने इंटरनेट पर सबसे भारी आम के बारे में पता किया तो पता चला कि ये रिकॉर्ड फिलिपींस के नाम है.

World's heaviest mango found in Colombia | Guinness World Records

जर्मन ऑरलैंडो ने कहा कि दुनिया के सबसे भारी आम के गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड से हम लोगों को बताना चाहते हैं कि कोलंबिया के लोग मेहनती होते हैं. वो अपने देश, अपनी जमीन, खेती-बाड़ी से बहुत प्रेम करते हैं.

Colombian farmers win Guinness World Records title by growing world's heaviest mango | Lifestyle News,The Indian Express

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल कोलंबिया के इस आम का रंग ऊपर से सेब के जैसा लाल है. इसमें बीच में एक धारी भी है और ये दिखने में भी काफी बड़ा लग रहा है. बता दें कि कोलंबिया के गुआयाता में ये बेहद छोटे पैमाने पर पैदा किया जाता है. आमतौर पर लोग इसे अपने खाने के लिए ही बोते है. ये पहली बार नहीं है जब कोलंबिया के गुआयाता में ऐसा रिकॉर्ड बनाया हो. इसके पहले भी गुआयाता में साल 2014 में 3,199 वर्ग मीटर लंबे प्राकृतिक फूलों की कारपेट का वर्ल्ड रिकॉर्ड बना है.