नई तकनीक व योजनाओं का लाभ उठाएं किसान: कृषि निदेशक

पाकुड़: जिला संयुक्त कृषि भवन के आत्मा सभागार में मंगलवार को एक दिवसीय जिला स्तरीय खरीफ फसल वर्ष 2021- 22 कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता संयुक्त कृषि निदेशक संथाल परगना परिक्षेत्र दुमका ने किया।

मौके पर डीडीएम नाबार्ड द्वारा एफपीओ की कार्यप्रणाली और उनके लाभ से संबंधित जानकारियां किसानों को दी गईं तो भूमि संरक्षण पदाधिकारी ने अपने विभाग में संचालित की जा रही योजनाओं, 90 फीसदी अनुदान पर पंपसेट वितरण आदि योजना की विस्तृत जानकारी दी। वहीं सहायक मत्स्य पदाधिकारी ने मत्स्य विभाग में क्रियान्वित होने वाली योजना यथा स्पाॅन वितरण, जाल वितरण के बावत बताया।उन्होंने कहा कि इन योजनाओं का लाभ उठाकर मत्स्य पालक अपनी आय वृद्धि कर सकते हैं।

संयुक्त कृषि निदेशक ने मौके पर मौजूद किसानों को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, स्प्रिंकल योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, झारखंड कृषि ऋण माफी योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड बीज उपचार, समेकित पोषक तत्व प्रबंधन, बीज विनिमय एवं वितरण आदि योजना की विस्तृत जानकारी दी।

मौके पर अनुमंडल सह जिला कृषि पदाधिकारी, भूमि संरक्षण पदाधिकारी, प्रधान कृषि वैज्ञानिक महेशपुर, डीडीएम नाबार्ड, वाणिज्यकर पदाधिकारी पाकुड़, क्षेत्रीय प्रबंधक इफको, सहायक मत्स्य पदाधिकारी, उप परियोजना निदेशक अरविंद कुमार राय के अलावा प्रखंडों से आए हुए प्रखंड कृषि पदाधिकारी, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक, जनसेवक, सहायक तकनीकी प्रबंधक, किसान मित्र एवं प्रगतिशील कृषक मौजूदथे।