भारत के ऐसे पांच बड़े जंगल, जिनकी खास बातें जानकर आप हो जायेगें हैरान

भारत अपने इतिहास के लिए तो बहुत मशहूर है लेकिन भारत का सिर्फ इतिहास ही खास नहीं है. बल्कि भारत मे बहने वाली जलवायु भी पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं. ये तो जानते ही हैं की भारत मे आपको एक से बढकर एक जंगल देखने को मिलेगे. पर क्या आप ये जानते हैं, यहां पर कई बड़े-बड़े घने और ऊंचे जंगल भी मौजूद हैं जहा पर खतरनाक जानवर रहते है. लेकिन इन्ही जंगलो के कारण भारत को हरा भरा और एक सुंदर देश माना जाता है. भारत की 21.5 फीसदी भूमि में सिर्फ जंगल आते है. जिनमे से सबसे ज्यादा जंगली भूमि वाला हिस्सा है मध्य प्रदेश. जहां पर 77,000 स्क्वायर किलोमीटर मे सिर्फ जंगल ही जंगल आते हैं. इसके अलावा अगर बात की जाये पुरे भारत की तो पुरे भारत मे 7,08,273 स्क्वायर किलोमीटर में जंगल फैला हुआ है. 

Panic In Sonbhadra Due To Tiger Sighting In Madhya Pradesh Forest Department Team Monitoring With Drone - एमपी और यूपी में दहशत: भरसेड़ा जंगल में टाइगर जोड़े की दस्तक से ग्रामीणों में

  1. पश्चिम बंगाल का सुंदरवन जंगल  

सुंदरवन भारत के सबसे बड़े और खतरनाक जंगलो मे से एक है. जो की पश्चिम बंगाल में स्थित हैं. यह जंगल गंगा नदी के डेल्टा मे मौजूद है. इस जंगल का क्षेत्रफल करीब 10,000 स्क्वायर किलोमीटर है. आमतौर पे ये जंगल रॉयल बंगाल टाइगर के लिए जाना जाता है. यहां पर खारे पानी के मगरमच्छ बहुत अधिक संख्या मे पाए जाते हैं. सुंदरवन के जंगल में ही भारत की सबसे शुद्ध और पवित्र नदियां गंगा, ब्रह्मपुत्र, पद्मा और मेघना आकर समुद्र में मिलती हैं. सुंदरवन का जंगल भारत और बांग्लादेश दोनों देशों में आता है. यहां पर जमीन बहुत ही दलदली होती है और यह दुनिया का सबसे हरा भरा जंगल माना जाता है.

Forest department confirms death of 7 more lions in Gir forest | India News,The Indian Express

  1. गुजरात का गिर जंगल

गिर जंगल भारत के राज्य गुजरात में स्थित है और यह भारत का दूसरा सबसे बडा जंगल माना जाता है. ये जंगल अपने एशियन शेरों के लिए ज्यादा जाना जाता है. क्योकि यह विश्व का एकमात्र ऐसा जंगल है जहा पर एशियन शेर मिलते हैं.यह सोमनाथ से 43 किलोमीटर उत्तर पूर्व की ओर और जूनागढ़ से 60 किलोमीटर दक्षिण पूर्व की ओर स्थित है. इस जंगल का क्षेत्रफल 1,412 स्क्वायर किलोमीटर है. गिर के इस जंगल में से 258 किलोमीटर स्क्वायर का भाग पूरी तरीके से संरक्षित है और 1,153 किलोमीटर स्क्वायर का भाग एक वन्य जीव अभ्यारण्य है.

irctc package for meghalay: मेघालय में रोमांच को हो जाएं तैयार, IRCTC लाया है नया टूर पैकेज - irctc tour package for meghalay | Navbharat Times

 

  1. मेघालय का खासी के पहाड़ों का जंगल

इस जंगल को भारत के तीसरे सबसे बड़े जंगलो में से एक माना जाता है. यह मेघालय मे स्थित है. भारत के दक्षिण में स्थित चेरापूंजी में हर रोज होने वाली बारिश के कारण ये जंगल सालों साल पूरी तरह से भींगा रहता है. खासी के पहाड़ों का जंगल करीब 1,978 मीटर की ऊंचाई पर बसा हैं. मेघालय के ज्यादा हिस्सों में ये जंगल ही फैला हुआ हैं और वैसे भी भारत का मेघालय एक ऐसा राज्य है, जहां पर वहां की भूमि का 75 फीसदी से भी ज्यादा हिस्सा जंगलों से घिरा हुआ है. खासी के पहाड़ों का जंगल करीब 2,741 स्क्वायर किलोमीटर में फैला है.

Hindi] Rainy days ahead for Assam, Meghalaya, Arunachal Pradesh and Nagaland | Skymet Weather Services

 

  1. अरुणाचल प्रदेश का नामडाफा जंगल

भारत के चौथे सबसे बड़े जंगलो मे नामडाफा जंगल को जाना जाता है. यह जंगल पूर्वी हिमालय के अरुणाचल प्रदेश में स्थित है. ये जंगल 1,985 स्क्वायर किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हैं. ये जंगल भारत के ठन्डे इलाके में स्थित हैं. इस जंगल के अन्दर ऐसे-ऐसे जानवर पाए जाते हैं जो भारत में कहीं और नहीं पाए जाते हैं. इन जंगलों में लाल पांडा, लाल लोमड़ी जैसे खतरनाक जानवर पाए जाते हैं.

Uttarakhand: जिम कॉर्बेट टाइगर रिजर्व का नाम अब होगा रामगंगा नेशनल पार्क,  केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने दिए निर्देश - Jim corbett national park  name will be change ...

 

  1. उत्तराखंड का जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क

यह जंगल भारत का पांचवा सबसे बड़ा जंगल है. विलूप्त हो रहे टाइगरो के संघरक्षण लिए इस जंगल का निर्माण किया गया. उत्तराखंड के नैनीताल में स्थित जिम कॉर्बेट 520 स्क्वायर किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ हैं. आमतौर पर ये जंगल बंगाल टाइगर के लिए जाने जाते हैं. इस जंगल में पीपल, आम के पेड़, साल के पेड़ बहुत अधिक संख्या मे पाए जाते है. इस जंगल का करीब 10 फीसदी का क्षेत्र हरे घास का मैदान है. जिम कार्बेट नेशनल पार्क को भारत का सबसे पुराना राष्ट्रीय पार्क कहा जाता है.

 

 

WRITTEN BY – UPASANA SINGH