पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की हालत गंभीत, अस्पताल ने जारी किया बयान

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें आर्मी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.  अस्पताल ने एक बयान में कहा है, ‘भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को गंभीर हालत में 10 अगस्त को 12 बजे सेना के अस्पताल दिल्ली कैंट में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में जांच के दौरान मस्तिष्क में खून के थक्के होने की बात सामने आई और इसके बाद उनकी सर्जरी हुई. सर्जरी के बाद वह वेंटिलेटर पर हैं. उनकी स्थिति अब भी गंभीर हैं और वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.’

वहीँ इससे पहले मुखर्जी ने खुद ट्वीट किया था , ‘अन्य कारणों से अस्पताल गया था, जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई ‘मैं अनुरोध करता हूं कि जो लोग गत एक हफ्ते में मेरे संपर्क में आए हैं, वे खुद पृथक-वास में चले जाएं और अपनी कोविड-19 की जांच कराएं.’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और वर्ष 2012 से 2017 तक देश के राष्ट्रपति रहे मुखर्जी की उम्र 84 साल है.

वहीँ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी मुखर्जी के परिवार वालों से बात की है और प्रणव मुखर्जी के तबीयत के बारे में जानकारी ली है. राष्ट्रपति भवन के ट्वीटर हैंडल से किये गये ट्वीट में लिखा गया है कि  ‘राष्ट्रपति ने शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत के बारे में जानकारी ली. राष्ट्रपति ने उनके जल्द स्वस्थ होने और अच्छे स्वास्थ्य की कामना की.’

प्रणब मुखर्जी के कोरोना पॉजिटिव होने पर तमाम वरिष्ठ लोगों ने उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की. इनमें कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह शामिल हैं.