नहीं रहे टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री

टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का सड़क दुर्घटना में निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि वह अपनी गाड़ी से जा रहे थे कि पालघर के पास एक सड़क हादसे में जान चली गई।  हादसे के वक्त वह अहमदाबाद से मुंबई की ओर जा रहे थे। बताया जा रहा है की वे गुजरात के उदवाड़ा में बने पारसी मंदिर से लौट रहे थे। जानकारी के अनुसार, उनके साथ गाड़ी में 4 लोग सवार थे।  इस हादसे में मिस्त्री समेत दो लोगों की मौत हुई है। आनन-फानन में उन्हे अस्पताल ले जाया गया. जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

कैसे हुआ हादसा

 शुरुआती जांच में पता चला है की कार को महिला डॉक्टर अनायता पंडोले ड्राइव कर रही थीं। उनके पति JM फाइनेंशियल के CEO दरीयस पंडोले उनके बगल वाली सीट पर बैठे थे। मिस्त्री और दरीयस के पिता जहांगीर पंडोले कार की पीछे वाली सीट पर बैठे थे। तेज रफ्तार से आती हुई उनकी मर्सिडीज कार अचानक रोड के डिवाइडर से टकरा गई. कार में सवार साइरस मिस्त्री और उनके साथ सफर कर रहे व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई. बाकी दो लोग गंभीर रूप से जख्मी हैं। बताया जा रहा है की यह हादसा  दोपहर करीब साढ़े तीन बजे अहमदाबाद से मुंबई के रास्ते में सूर्या नदी पुल पर हुआ। गौरतलब है की कार की टकरके बाढ़ आगे के एयरबैग तो खुल गए, लेकिन पीछे वाले एयरबैग सही समय पर नहीं खुले। जबकि मर्सिडीज जीएलसी 220डी में कम से कम सात एयरबैग दिए गए हैं। पुलिस इस घटना की जांच कर रही है।

टाटा ग्रुप के छठे ग्रुप चेयरमैन थे साइरस

दिसंबर 2012 को रतन टाटा ने टाटा सन्स के चेयरमैन पद से रिटायरमेंट ले लिया था. उसके बाद सायरस मिस्त्री को टाटा सन्स का चेयरमैन बनाया गया. मिस्त्री टाटा सन्स के सबसे युवा चेयरमैन थे. मिस्त्री परिवार की टाटा सन्स में 18.4% की हिस्सेदारी है. वो टाटा ट्रस्ट के बाद टाटा सन्स में दूसरे बड़े शेयर होल्डर्स थे. पालोनजी मिस्त्री के पास 1.02 लाख करोड़ रुपए (55 बिलियन अमेरिकन डॉलर) की संपत्ति है. वह दुनिया के 143वें सबसे अमीर व्यक्ति थे।

2016 में टाटा संस से हुआ था विवाद

साइरस पलोनजी मिस्त्री तब चर्चा में आए जब 2012 में रतन टाटा के इस्तीफे के बाद वह टाटा संस का नेतृत्व करने के लिए चुने गए। साइरस मिस्त्री अपने पिता और और शपूरजी पलोनजी ग्रुप के चेयरमैन पलोनजी मिस्त्री के इस्तीफे के बाद 2006 में टाटा संस के बोर्ड में शामिल हुए। 24 अक्टूबर 2016 को टाटा संस के बोर्ड ने वोटिंग के जरिए मिस्त्री को चेयरमैन पद से हटा दिया।

पीएम मोदी ने भी जताया दुख

पालोनजी मिस्त्री को कारोबार जगत में उनके शानदार योगदान के लिए साल 2016 में पद्म भूषण सम्मान से भी नवाजा गया था। पीएम ने ट्वीट कर कहा कि साइरस मिस्त्री के असमय निधन से हतप्रभ हूं। वह एक होनहार उद्योगपति थे जो भारत की आर्थिक नीति में विश्वास करते थे। उनका निधन उद्योग जगत के लिए काफी बड़ी क्षति है।