प्रदूषण से निजात के लिए गौतम गंभीर ने उठाया ये बड़ा कदम…

राजधानी दिल्ली में बीते कई दिनों से लगातार प्रदूषण का स्तर बेहद खराब बना हुआ है..जिसके चलते दिल्लीवालों को इस प्रदूषित हवा में सांस लेने को मजबूर होना पड़ रहा है..और लोगों के स्वास्थ्य पर भी इसका बुरा असर पड़ रहा है..लेकिन इसी बीच दिल्ली में लगातार बढ़ते हुए प्रदूषण से निपटने के लिए बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने एक अच्छी पहल शुरू की है..जो काबिले तारिफ है..दरअसल, राजधानी दिल्ली में पहला स्मॉग टावर लगाया गया है जो की दक्षिणी दिल्ली के लाजपत नगर के सेंट्रल मार्केट में लगाया गया है।

यहां चीन की तर्ज पर स्मॉग टावर लगाया गया है जो हवा की गुणवत्ता को नियंत्रित करने का काम करेगा. इस 20 फुट ऊंचे प्रोटोटाइप एयर प्यूरीफायर को गौतम गंभीर फाउंडेशन की तरफ से लगाया गया है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर ने शुक्रवार को इस स्मॉग टावर का उद्घाटन किया….इस मौके पर सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि इस स्मॉग टावर का नाम ‘शुद्ध’ रखा गया है..साथ ही कहा कि प्रदूषण के खिलाफ मुहिम उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है और वह इसके लिए लगातार काम कर रहे हैं.. बताया जा रहा है कि इसका खर्च गौतम गंभीर फाउंडेशन ने उठाया है ।


बता दें कि यह टावर इलाके के 500 से 750 मीटर के दायरे की हवा को शुद्ध करेगा. यह स्मॉग टावर प्रतिदिन ढाई लाख से लेकर 6 लाख क्यूबिक मीटर हवा साफ करेगा. इस टावर का डिजाइन बेलनाकार है, जिसमें एक बड़ा सा इनलेट है जिससे प्रदूषित हवा अंदर जाएगी और चार आउटलेट की मदद से साफ हवा वातावरण में छोड़ी जाएगी. स्मॉग टावर में बड़े-बड़े पंखे लगे हैं जो प्रदूषित हवा को अंदर खीचेंगे और फिल्टर की मदद से प्रदूषित हवा साफ हो जाएगी। टावर पर एक मॉनिटर भी लगा है जिस पर पीएम 2.5 का स्तर देखा जा सकता है।

दावा किया जा रहा है कि स्मॉग टावर हवा में मौजूद पीएम 2.5 और पीएम 10 के हानिकारक कणों को 80 फीसदी तक साफ कर देगा. खबरों की मानें तो इसे चलाने में महीने भर का खर्च लगभग 30 हजार रुपये आएगा..जिसका खर्च लाजपत नगर ट्रेड एसोसिएशन द्वारा किया जाएगा। वही, इस पूरे टावर की कीमत करीब 7 लाख रुपये है..इसे बिजली या सौर ऊर्जा से भी संचालित किया जा सकता है ।


जान ले कि ये टावर जहां लगाया गया है वहां के बाजार में हर रोज औसतन 15 हजार लोग खरीदारी करने के लिए आते हैं। इस टावर के लगने के बाद व्यापारियों को उम्मीद है कि इसके लगने से उनके व्यापार में भी इजाफा होगा और प्रदूषण के समय भी लोग बेहिचक शॉपिंग के लिए यहां आ सकेंगे। आपको बता दें कि दिल्ली का प्रदूषण स्तर हर साल खतरनाक होता जा रहा है।
बढ़ते प्रदूषण के बीच गौतम गंभीर के द्वारा उठाया गया ये कदम वाकई काबिले तारिफ है ।एक तरफ नेता प्रदूषण पर आरोप प्रत्यारोप की राजनीति करते है तो दूसरी तरफ गौतम गंभीर ऐसे सांसद है जो प्रदूषण से निजात के लिए काम करना शुरू कर चुके है..ऐसे में उनके इस कदम से नेताओं को सीख लेने की जरूरत है ।