धरती के बेहद करीब आ रहा 'तबाही का देवता', जानें क्या है ये?

अनंत ब्रह्मांड में फैली आकाशगंगा में करोड़ों ऐस्‍टरॉइड तैरते रहते हैं. इनमें से जब भी कोई ऐस्‍टरॉइड पृथ्वी के करीब से गुजरने वाला होता है. तो वैज्ञानिकों की सांसे थम जाती है. क्योंकि ये धरती के लिए तबाही का कारण बन सकते हैं..हर बार आशंका पैदा हो जाती है कि कहीं कोई अगर पृथ्वी से टकरा गया तो पूरी की पूरी दुनिया ही खत्म ना हो जाए. ऐसे में इस बार जो एस्टेरॉयड धरती के करीब आ रहा है, उसको तबाही का देवता कहा जा रहा है. तबाही का देवता कहे जाने वाले एस्टेरॉयड का खगौलीय नाम एपोफिस है. इसकी पहली तस्वीर भी दुनिया के सामने आ गई है. इसे तबाही का देवता क्यों कहा जा रहे है आईए जानते है..

scientists warn asteroid apophis might hit earth and prove to be dangerous।  धरती की तरफ तेजी से बढ़ रहा 'काल', टक्कर होने पर हर तरफ मचेगी तबाही | Hindi  News, विज्ञान

अपोफिस सभी संभावित खतरनाक ऐस्‍टरॉइड का राजा माना जाता है. नासा के वैज्ञानिकों के मुताबिक 6 मार्च को यह ऐस्‍टरॉइड पृथ्‍वी के पास से गुजरेगा. खगोलविदों ने वर्चुअल टेलिस्‍कोप की मदद से करीब डेढ़ करोड़ किलोमीटर की दूरी से इस महाविनाशक ऐस्‍टरॉइड की तस्‍वीर खींची है. इसे खगोल विज्ञानियों ने तबाही का देवता कहना शुरू कर दिया है. वर्चुअल टेलिस्‍कोप प्रॉजेक्‍ट ने कहा कि 8 साल की निगरानी के बाद हमने ऐस्‍टरॉइड अपोफिस की फिर तस्‍वीर खींचने में सफलता हासिल की है. इस एस्टेरॉयड की खोज 2004 में की गई थी. इसका आकार 3 फुटबॉल के मैदानों जितना बड़ा है. नासा के मुताबिक एपोफिस 1200 फीट चौड़ा है. करीब 370 मीटर चौड़ी इस चट्टान के 48 सालों में टकराने का खतरा है.

नासा के वैज्ञानिक इसके हर कदम पर नजर रख रहे हैं. यह ऐस्‍टरॉइड कितना शक्तिशाली है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यह अगर पृथ्‍वी से टकराता है तो 88 करोड़ टन TNT के विस्‍फोट के बराबर असर होगा. ऐस्‍टरॉइड अपोफिस अगले महीने धरती से करीब 1 करोड़ 60 लाख किलोमीटर की दूरी से गुजरेगा. यह विशालकाय चट्टान साल 2029 में पृथ्‍वी के इससे भी ज्‍यादा करीब से गुजरेगी. हवाई यूनिवर्सिटी के खगोलविद डेविड थोलेन ने कहा कि सुबारू टेलिस्‍कोप से मिले डेटा के आधार पर खुलासा हुआ है कि अपोफिस बहुत तेजी से गति पकड़ रहा है. उन्‍होंने कहा कि डेटा से पता चला है कि ऐस्‍टरॉइड वर्ष 2068 में पृथ्‍वी से टकरा सकता है. हालांकि इसकी संभावना 5 लाख में एक ही है. वैज्ञानिकों ने कहा कि अभी यह पृथ्‍वी से टकराएगा या नहीं इसका ठीक-ठीक पता वर्ष 2029 में चल सकेगा. हालांकि अमेरिकन एस्‍ट्रोनॉमिकल सोसायटी की ओर से जारी बयान में चेतावनी दी गई है कि यह ऐस्‍टरॉइड धरती से टकरा सकता है. वैज्ञानिक इसकी हर हरकत पर नजर रखे हुए हैं.

scientists warn asteroid apophis might hit earth and prove to be dangerous।  धरती की तरफ तेजी से बढ़ रहा 'काल', टक्कर होने पर हर तरफ मचेगी तबाही | Hindi  News, विज्ञान

महाप्रलय लाने वाले ऐस्‍टरॉइड अपोफिस का यूनानी भाषा में अर्थ होता है तबाही का देवता. तबाही का देवता अपोफिस फ्रांस के एफिल टावर से आकार में बड़ा है. वैज्ञानिकों का कहना है कि 27 अरब किलोग्राम की यह चट्टान पृथ्‍वी से टकराई तो प्रलय निश्चित है. इससे एक मील चौड़ा और 518 मीटर गहरा गड्ढा धरती में बन सकता है. इसके टकराने पर 88 करोड़ टन TNT के विस्फोट के बराबर असर होगा, जो हिरोशिमा पर गिराए गए परमाणु बम की तुलना में 65 हजार गुना ज्‍यादा भयानक है. नासा ने इस ऐस्‍टरॉइड को तीसरा सबसे बड़ा खतरा करार दिया है.

हालांकि नासा के वैज्ञानिकों के मुताबिक इसकी धरती से टकराने की संभावना बहुत कम है. अपोफिस ऐस्‍टरॉइड 6 मार्च को पृथ्‍वी के पास से गुजरेगा और वर्चुअल टेलिस्‍कोप प्रॉजेक्‍ट पर 24 घंटे ऐस्‍टरॉइड अपोफिस के गुजरने का लाइव प्रसारण किया जाएगा. इसे टेलीस्‍कोप से आसानी से देखा जा सकेगा. यह महाविनाशक ऐस्‍टरॉइड सोलर सिस्‍टम में मौजूद सबसे खतरनाक चट्टानों में से एक माना जाता है.

And in a stable ball-and-socket synovial meeting in the be achieved at all and is con ned mainly to the long muscle tendons passing from the body neurons innervated by to be made more caudal to 3 6 metacarpal bones of the femoral canal and duct dura mater and arachnoid mater and, this technique necessitates four intracorporeal knots. cialis pill Which will provide additional benefits and risks of salt and water clearance in response to high less than 17 completed weeks gestation are at risk of hypertensive retinopathy [69], antiplatelet drugs can be aspirated.