उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी में बादल फटने से भारी तबाही, सीएम ने लिया जायजा

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी और चमोली जिलों में बादल फटने से काफी नुकसान होने की खबर सामने आई है. सोमवार को यहां दो अलग- अलग घटनाओं में भारी बारिश के दौरान बादल फटने से कुछ गांवों में मकानों और सडकों को नुकसान पहुंचा है. हालांकि, कहीं से जनहानि की कोई सूचना नहीं मिली है.

Uttarakhand: Several houses, roads damaged due to a cloudburst in  Uttarkashi's Tehri and Rudraprayag - Oneindia News
पहली घटना रुद्रप्रयाग जिले के नरकोटा की है, जहां बादल फटने से 12 घरों में मलबा घुस गया, जबकि खांकरा में एक ढाबा पानी में बह गया. वहीं, एक बुलेरो और मोटरसाइल की भी हाइवे के किनारे धस कर नीचे खाई में जा गिरी.

Cloudburst in Uttarakhand's Tehri, Uttarkashi and Rudraprayag - India News

बादल फटने की दूसरी घटना उत्तरकाशी में हुई है यहां के चिन्यालीसौड़ में कुमराड़ा और बल्डोगी गांव के पास बादल फटा. इसमें कुमराड़ा गांव में एक मकान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है, वही दो भैंस और एक बकरी की मौत हो गई. इसके साथ ही चार मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए और खेतों को भी भारी नुकसान हुआ. इतना ही नहीं उत्तरकाशी जिले के मोरी ब्लॉक के फिताड़ी गाव के जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से 40 भेड़-बकरियों की मौत हो गई.

Three Cloudburst Incidents Reported in Uttarakhand on May 3; No Casualties  So Far | The Weather Channel - Articles from The Weather Channel |  weather.com

वही चमोली जिले के घाट विकासखंड के भेटी गांव में रविवार देर रात आकाशीय बिजली गिरने से एक गोशाला में बंधे पांच मवेशियों की मौत हो गई, जबकि दो मकानों को आंशिक रूप क्षति पहुंची है.

Uttarakhand । cloudburst hit Several houses & roads । Kumarada village of  Chiniyalisaur block। Uttarkashi & Saini Tok area of Narkota village in  Rudraprayag | उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग में कई घर मिट्टी

राज्य के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बादल फटने की खबर का तत्काल संज्ञान लेते हुए संबंधित जिलाधिकारियों से फ़ोन पर बातचीत की और जानकारी ली. सीएम ने उन्हें प्रभावितों को तुरंत राहत और सहायता राशि देने के निर्देश दिए गए हैं साथ ही कहा है कि स्थिति पर लगातार नज़र रखे.

Cloud Burst in Rudraprayag, Uttarkashi and Tehri of Uttarakhand - WildHawk

मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग और सीमा सड़क संगठन को बंद मार्गों को तत्काल खुलवाने के आदेश दिए ताकि लोगों को परेशानी न हो.बता दें कि मौसम विज्ञान केंद्र ने उत्तराखंड में बारिश और ओलावृष्टि को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.