हेमन्त सरकार हमारे हक अधिकार को छीन रही है: अर्जुन मुंडा

रांची: धरती आबा बिरसा मुंडा के पुण्यतिथि को लेकर अनुसूचित जनजाति मोर्चा ने प्रदेश कार्यालय में आयोजित श्रद्धांजलि सह जनजाति उलगुलान समारोह कार्यक्रम के मुख्य वक्ता के रूप में दिल्ली से वर्चुवल माध्यम से जुड़े केंद्रीय मंत्री मंत्री अर्जुन मुंडा ने धरती आबा बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि बिरसा मुंडा ने शोषण के खिलाफ अंग्रेजों के विरुद्ध उलगुलान किया। उन्होंने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा के सपने को साकार करने के लिए भाजपा दृढसंकल्पित है। इस देश में साढ़े दस करोड़ से ज्यादा जनजाति के लोग हैं जिन्हें 9वें शेड्यूल में उनके हक और अधिकार को सुरक्षित रखा गया है। धारा 242 में राष्ट्रपति को भी उत्तरदायित्व बनाया गया है। साथ ही ट्राइबल एडवाइजरी कमिटी को भी विशेष अधिकार दिए गए हैं। उन्होंने आदिवासियों के अधिकार पर चर्चा करते हुए कहा कि राज्य के आदिवासी समाज के लोगों को समझना होगा कि राज्य की हेमन्त सरकार हमारे हक अधिकार किस तरह से मार रही है। जनजातीय समाज को जागरूकता का परिचय देने का समय आ गया है। मुंडा ने कहा कि बिरसा मुंडा ने एक तरफ संघर्ष तो दूसरी तरफ शांति के साथ जीवन यापन का भी सूत्र दिया। उन्होंने हेमंत सरकार द्वारा टीएसी में किए गए छेड़छाड़ को लेकर भी सवाल उठाया उन्होंने कहा कि टीएसी को दंत विहीन बनाने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में जनजाति मोर्चा की जिम्मेवारी बढ़ गई है।