हेमन्त सरकार अपनी नाकामियों का ठीकरा केंद्र पर न फोड़े: दीपक प्रकाश

मेडिकल कॉलेजों में नामांकन की अनुमति नहीं मिलना राज्य सरकार की विफलता

 रांची: राज्य सरकार की नाकामियों पर बड़ा सवाल खड़ा करते हुए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि हेमंत सोरेन की सरकार कांग्रेस की कठपुतली बनकर रह गयी है। राज्य को लूटने में लगी हुई है। राज्य के आधारभूत संरचना के निर्माण का काम ठप पड़ा हुआ है। राज्य सरकार की लापरवाही के कारण मेडिकल कालेजों का कार्य समय पर पूरा नहीं होना, नामांकन की अनुमति नहीं मिलने को लेकर जिम्मेवार है। राज्य के तीनों नए मेडिकल कॉलेज दुमका पलामू और हजारीबाग के आधारभूत सरंचना का कार्य अधूरा है। राज्य की सरकार खुद को घिरते देख अपनी सारी जिम्मेवारी केंद्र पर मढ रहे हैं। कहा कि मोदी सरकार ने तो राज्य को  तीन नए मेडिकल कॉलेज दिए।सीटों की संख्या बढ़ाई।यह राज्य की बड़ी उपलब्धि है परन्तु प्रदेश में भाजपा सरकार बदलते ही कॉलेज के निर्माण कार्य ठप पड़ गए। कॉलेजों में नामांकन की अनुमति केंद्र नहीं बल्कि आईएमसी देती है। इंडियन मेडिकल काउंसिल ने कई बार रांची स्थित रिम्स पर भी सवाल उठाया है।

उन्होंने कहा कि राज्य में डॉक्टरों का घोर अभाव है। मरीज इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। इसके बावजूद राज्य सरकार ने मेडिकल कॉलेज निर्माण में सुस्ती दिखाई इसका परिणाम है कि 300 मेडिकल सीटों पर नामांकन की अनुमति मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने नहीं दी। सरकार का ध्यान आधारभूत संरचना को पूरा करने के बजाए ट्रांसफर पोस्टिंग उद्योग चलाने में है। विकास विरोधी सरकार में राज्य का भला कभी नहीं हो सकता।

साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में विकास कार्य ठप पड़ा हुआ है। अपराधियों और उग्रवादियों का तांडव राज्य में जारी है, व्यवसायी वर्ग परेशान हैं। राज्य की बहू बेटियां खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है और इसके जिम्मेवार सिर्फ और सिर्फ हेमंत सोरेन की दिशाहीन सरकार है।