ये है विश्व की सबसे गर्म जगह,यहां छिपे है कई गहरे राज

आपने ठंडे इलाकों के बारे में तो बहुत ही सुना होगा, जहां पूरे साल ठंड पड़ती है. लेकिन क्या आपने एक ऐसी जगह के बारे में सुना है जहां मौसम इतना बेरहम है, जिसकी कोई हद ही नहीं है. दुनिया में एक जगह ऐसी भी है जहां इतनी गर्मी पड़ती है कि कोई पिघल भी सकता है.

इस जगह का नाम है, ‘डानाकिल डिप्रेशन’ है. आपको जानकर हैरानी होगी कि, डानाकिल डिप्रेशन नाम की यह जगह दुनिया की सबसे गर्म, सबसे सूखी और धरती पर सबसे नीचे स्थित जगह है. ये जगह उत्तरी अफ्रीकी देश इथियोपिया में स्थित है. इसका एक हिस्सा पड़ोसी देश इरीट्रिया से भी मिलता है.’  ये इथियोपिया के अफार इलाके में पड़ती है. यहां का मौसम बेहद जालिम है.

‘डानाकिल डिप्रेशन’ को दुनिया की सबसे गर्म जगह इसलिए कहा जाता है क्योंकि यहां पूरे साल औसत तापमान 34.4 डिग्री सेल्सियस से ऊपर ही रहता है. पृथ्वी पर जो और गर्म जगहें हैं, वहां औसतन इतना तापमान नहीं रहता. इसके साथ ही यहां बारिश भी बहुत कम होती है. यहां साल भर में मात्र 100 से 200 मिलीमीटर बारिश ही होती है. इसके अलावा एक खास बात ये भी है कि ‘डानाकिल डिप्रेशन’ समुद्र तल से करीब सवा सौ मीटर नीचे है. यहां के ये हालात इसे रहने के लिए धरती पर सबसे बदतर ठिकाना बना देते हैं.

ऐसे में आपको लग रहा होगा कि यहां पर कोई इंसान नहीं रहता होगा, तो आप गलत है. इस जगह पर अफार समुदाय के लोग रहते है जिन्हें यहां पर रहने की आदत पड़ गई है. इथियोपिया के अफार समुदाय के लोग बेरहम मौसम वाले ठिकाने को अपना घर मानते हैं. उन्हें यहां के माहौल में रहने की ऐसी आदत हो गई है कि भूख-प्यास भी नहीं लगती.

बता दें कि इस जगह का सिर्फ धरती के ऊपर का माहौल ही नहीं खराब है, ब्लिक यहां धरती के अंदर भी हलचल मची रहती है. ये वो जगह है जहां पर तीन टेक्टॉनिक प्लेट्स मिलती हैं. ये वो प्लेटे है जिसपर हमारी धरती टिकी हुई है. यहां पर जो टेक्टॉनिक प्लेट्स हैं वो हर साल एक दूसरे से दो ने तीन सेंटीमीटर दूर होती रहती है.धरती के भीतर मची-इस उथल-पुथल का नतीजा ये कि यहां पर अक्सर धरती की आग बाहर आती रहती है. ‘डानिकल डिप्रेशन’ पर जहां भी आपकी नजर जाएगी वहां पर आपको पिघलता हुआ लावा देखने को मिल जाएगा. इतना ही नहीं इस पूरे इलाके में कई ज्वालामुखी हैं जो हमेशा आग और राख उगलते रहते हैं.

यहां पर लगातार धरती के अंदर से आग बाहर आती रहती है इसी वजह से यहां पर कई गर्म पारी के झरने भी बहते हैं. जैसे ही इऩ झरनों से पानी बाहर आता है यहां पर पड़ने वाली भयंकर गर्मी की वजह से वो जल्द ही सूख जाता है. यही वजह है कि  इस इलाके में नमक की कई खदानें भी मौजूद है. यह नमक की खदानें ही यहां पर रहने वाले अफार समुदाय के लोगों की आय का मुख्य स्त्रोत है. यहां के लोगों के लिए नमक बेहद कीमती चीज है. वो नमक की चट्टानें काट-काटकर उसे ले जाकर बेचते हैं.

अगर आप ‘डानाकिल डिप्रेशन’ जाते है तो आपको ऐसा लगेगा कि आप धरती पर नहीं, ब्लिक किसी और ग्रह पर पहुंच गए हैं. यहां का मौसम बेहद गर्म और रूखा है.यहां की तपती सुरज में जलन महसूस होती है. यहां हर ओर गड़्ढों में पिघलता लावा आपको दिख जाएगा.वही, आस-पास के इलाकों में लावे के ठंडे होने से बनी चट्टानें और पहाड़ियां देखने को मिल जाएंगी. इसके साथ ही यहां गर्म पानी के कई झरने हैं.यहां जाना किसी खतरे से खाली नहीं है. ये दूनिया के अजीबो-गरिबों जगहों में से एक है. दुनिया के सबसे खतरनाक और भयानक जगहों में भी इसकी गिनती की जाती है.