होली से पहले दिल्ली वालों से पुलिस की अपील, नियमों का करें पालन वरना कटेगा चालान

कोरोना वायरस के बीच होली के त्योहार को लेकर पूरे देश में अलर्ट जारी कर दिया है. होली में समारोह से कोरोना के फैलने का खतरा बढ़ गया है ऐसे में दिल्ली पुलिस ने लोगों से अपील की है. दिल्ली पुलिस द्वारा अपील की गयी है कि लोग होली के त्योहार पर सार्वजनिक कार्यक्रमों से बचे और कोविड-19 महामारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन करते हुए घरों में ही इस त्योहार को मनाएं. पुलिस ने चेतावनी दी कि त्योहार के दौरान सार्वजनिक उत्सव मनाते हुए पकड़े जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने मंगलवार को आदेश जारी कर कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में आगामी होली एवं नवरात्र जैसे त्योहारों पर कोई सार्वजनिक उत्सव नहीं होगा.

मुख्य सचिव विजय देव ने अधिकारियों को आदेश का सख्ती से अनुपालन कराने का निर्देश दिया है. डीडीएमए के आदेश का हवाला देते हुए दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी चिन्मॉय बिस्वाल ने लोगों से कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन करने का आह्वान किया है. उन्होंने कहा कि होली के दौरान लोगों की तरफ से मैदान, पार्क , बाजार या धार्मिक स्थलों पर एकत्र होकर सार्वजनिक रूप से उत्सव मनाने की अनुमति नहीं होगी.

साथ ही होली के मद्देनजर दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने दोपहिया वाहन सवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के व्यापक इंतजाम किए हैं और यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अहम चौराहों पर विशेष जांच दल तैनात करने की योजना बनाई है. ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से नियमों को ना तोड़ने की अपील की है और आग्रह किया है कि वो सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करें एवं सार्वजनिक स्थानों पर होली नहीं मनाएं.

ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक, होली का त्योहार सोमवार को मनाया जाएगा, लिहाज़ा सड़क पर वाहन सवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए व्यापक यातायात बंदोबस्त किए गए हैं और उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी जो शराब पीकर गाड़ी चलाएंगे, दो पहिया वाहन से स्टंट करेंगे, बिना हेलमेट पहने गाड़ी चलाएंगे, खतरनाक तरीके से वाहन चलाएंगे या ट्रैफिक के अन्य नियम तोड़ेंगे.

संयुक्त पुलिस आयुक्त (यातायात) मीनू चौधरी ने बताया कि अहम चौराहों और संवेदनशील स्थानों पर विशेष जांच दल तैनात किए जाएंगे ताकि यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों का पता लगाया जा सके और उनपर कार्रवाई की जा सके. उन्होंने कहा कि प्रमुख सड़कों एवं स्थानों पर यातायात पुलिस की विशेष दलों के साथ पीसीआर और स्थानीय पुलिस के दल भी तैनात रहेंगे और शराब पीकर गाड़ी चलाने, लाल बत्ती पार करने और अन्य नियमों को तोड़ने वालों का पता लगाएंगे. तय गति से अधिक पर गाड़ी चलाने वालों पर लगाम लगाने के लिए राडर गन्स भी तैनात की जाएंगी.