अरब सागर: तूफान का अलर्ट, 3 जून तक महाराष्ट्र-गुजरात में देगा दस्तक!

सबसे भयानक तूफान ‘अम्फान’ के पश्चिम बंगाल में तबाही मचाने के बाद अब गुजरात में ‘हिका’ चक्रवाती तूफान का खतरा बना हुआ है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, अरब सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है,जो 3 जून तक गुजरात और उत्तर महाराष्ट्र के तटों की ओर बढ़ेगा, इसकी वजह से 3 जून को महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री तटों से चक्रवाती तूफान टकराने की संभावना है.

इसी को देखते हुए मौसम विभाग ने अरब सागर के लिए दोहरे दबाव का अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर के ऊपर दो तूफान बन रहे हैं, जिसमें से एक अफ्रीकी तट से लगे समुद्र क्षेत्र के ऊपर है, वो ओमान और यमन की ओर बढ़ सकता है, जबकि दूसरा भारत के करीब है. इसके अगले 12 घंटों में और अधिक गहरे डिप्रेशन में बदलने की आशंका है.

ये तूफान गुजरात के द्वारका ओखा और मोरबी से टकराता हुआ, कच्छ की ओर जा सकता है.ऐसी आशंका जताई जा रही है कि अन्य तूफानों की तरह ही ये भी कच्छ के कंडला और आसपास के इलाकों में भारी नुकसान पहुंचा सकता है.

मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, दक्षिणपूर्व अरब सागर और लक्षद्वीप में 24 घंटों के दौरान कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है. लेकिन उम्मीद है कि कल यह और गहराया जाएगा और इसके एक दिन बाद यह साइक्लोन में बदल जाएगा. यह उत्तर की ओर बढ़ेगा और गुजरात के करीब पहुंचेगा. इसके बाद, तीन जून को महाराष्ट्र तट पर पहुंचेगा.

बता दें कि तूफान की आशंका के चलते मछुआरों को समंदर किनारे न जाने की सलाह दी गई है. हालांकि, मौसम विभाग के मुताबिक इस तूफान का केंद्र ओमान के पास है, लेकिन इसका असर महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों पर भी पड़ने की संभावना है.