“योग का महत्व ” मिशेज हरियाणा और योग गुरु के साथ चर्चा, PSM के संस्थापक डा. राकेश भास्कर भी हुए शामिल

पर्यावरण पोस्ट द्वारा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर ” योग का महत्व” विषय पर एक ऑनलाइन चर्चा का आयोजन किया गया. इस चर्चा में डॉ राकेश भास्कर(संस्थापक-पर्यावरण संरक्षण मंच ,PSM),ऋतु कटारिया(मिशेज हरियाणा समाज सेवी),सतिश शर्मा(मोटिवेशनल स्पीकर,योग टीचर लेवल 5),कुमार गणेशम(माय होम इंडिया),कमल चौधरी(योगाचार्य) शामिल हुए.

PSM के संस्थापक डा. राकेश भास्कर ने कार्यक्रम कि  शुरुआत में कहा कि योग हर किसी को अपनाना चाहिए. अब वो वक्त आ गया है जब योग दवा से भी ज्यादा फायदेमंद साबित हो रहा है. कोरोना काल में हर किसी ने योग के महत्व को देखा है. प्रधानमंत्री मोदी जी का अभिवादन करना चाहिए कि उन्होंने योग को पूरी दुनिया तक पहुंचाया.

चर्चा में शामिल कमल चौधरी (योगाचार्य) ने कहा कि वे चीन में जाकर योगा सिखा चुके हैं. योग को पूरी दुनिया में अपनाया जा रहा है. भारत से ज्यादा विदेशों में योग का प्रचलन बढ़ रहा है. योग के फायदे को बताते हुए कमल चौधरी ने कहा कि साल 2015 के बाद से ही भारत में योग को एक और बूस्ट मिला. कोरोना काल में योग करने वालों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है.

मिशेज हरियाणा, ऋतू कटारिया ने कहा कि योग से हम ना कि शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं बल्कि मन को भी शांत रखने में मदद मिलती है. योग ने भारत में हजारों, लाखों युवाओं को रोजगार दिया है. इतना ही नही कोरोना काल में योग का महत्व लोगों को समझ में आया. एक सवाल के जवाब में ऋतू कटारिया ने कहा कि उन्होंने योग की शुरुआत बचपन में कर दी थी. जिसके कारण उन्हें अब अपने शरीर को स्वस्थ रखने में कोई दिक्कत नही होती.

मोटिवेशनल स्पीकर, योगा टीचर, सतीश शर्मा ने चर्चा में अपनी बात रखते हुए योग के महत्व को समझाया. इतना ही उन्होंने  कार्यक्रम के दौरान एक योग भी करवाया. उन्होंने कहा कि योग करने से दिमाग शांत रखता है. योग को हमें नही बल्कि हमें योग करने की जरूरत है. कोरोना काल के दौरान जिम करके और पाउडर खाकर बॉडी बनाने वाले लोग कोरोना से लड़ाई में हार गये लेकिन जो लोग योग करते थे  कोरोना हुआ और उन्हें पता तक नही चला, क्योंकि उनका शरीर कोरोना से लड़ने में सक्षम था.

माय होम इंडिया, कुमार गणेशम ने चर्चा में अपनी बात रखी. कुमार गणेशम ने कोरोना काल के दौरान लोगों के तनाव का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि हम तनाव को अधिक जगह देने लगे हैं. हम अब तनाव के साथ जीने की आदत डाल चुके हैं. हमें इस तनाव से बाहर आने के लिए योग को अपनाना चाहिए.

आप यहाँ पर “योग का महत्व” चर्चा का वीडियो देख सकते हैं.