उत्तराखंड जानें वालों के लिए महत्वपूर्ण खबर, जानें से पहले ये खबर जरूर पढ़िये

उत्तर प्रदेश, दिल्ली समेत उत्तर भारत के अधिकतर राज्यों में गर्मी बढ़ने के साथ ही पर्यटकों ने पहाड़ों की ओर रुख करना शुरू कर दिया है. उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश जैसे हिल स्टेशनों पर बड़ी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं. इन सैलानियों के लिए कोरोना और गर्मी पहले से ही मुसिबत बनी हुई है लेकिन अब एक और नई मुसिबत सामने आ गई है. अगर आप लोग भी गर्मी से दूर उत्तराखंड के वादियों में धूमने का मन बना रहे है तो सावधान हो जाएं..क्योंकि वहां से एक नई परेशानी सामने आ रही है…

बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग-58 तीन जगहों पर बंद पड़ा हुआ है.

दरअसल, लंबे अंतराल के बाद  उत्तराखंड में भारी बारिश देखने को मिल रही है जिसके चलते जन-जीवन प्रभावित हुआ है. बारिश के चलते पहाड़ों पर भूस्खलन भी शुरू हो गया है. आलम ये है राज्य के कुमाऊं मंडल में बादलों ने कहर बरपाया है. टनकपुर में बरसाती नाले में बहने से एक युवती की मौत हो गई है. वहीं कपकोट में घर ढहने से तीन लोगों की मौत हुई है. पूर्णागिरी में तीन दुकाने ध्वस्त हो गईं हैं. बदरीनाथ-गंगोत्री हाईवे भी मलबा आने से बंद है.

भूस्खलन के चलते बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग-58 रविवार की सुबह तीन जगहों पर बंद हो गया. इसके अलावा पागल नाले में भारी मलबा आने के चलते मार्ग बाधित हो गया है. यहां गाड़ियों की लंबी कतार लगी हुई है. बद्रीनाथ धाम में भी शनिवार से लगातार बारिश हो रही है जिसके चलते बद्रीनाथ धाम में एक बार फिर अलकनंदा का जलस्तर बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है. बारिश के चलते चमोली में पागलनाला, गुलाबकोटी एवं हनुमानचट्टी के पास मलबा आने के बाद हाइवे कई जगहों पर बंद हो गए हैं जिसके चलते लंबा जाम लग गया है.जाम लगने से लोगों को आने जाने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

rain, landslide, flood

यहां आपको बता दें कि बंगाल की खाड़ी में बनने वाले दबाव क्षेत्र और मॉनसून के आगे बढ़ने की वजह से 10 जुलाई के बाद उत्तर पश्चिम भारत में व्यापक बारिश होने की संभावना जताई गई थी. वहीं, 11 और 12 जुलाई को जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और पंजाब में भी भारी बारिश की संभावना जताई गई है. उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में09 जुलाई से 14 जुलाई के बीच भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया गया है. उत्तराखंड में आज और कल यानी 12 जुलाई को भारी से बहुत भारी वर्षा होने के आसार बताए गए हैं. इसके लिए ऑरेंज अलर्ट भी मौसम विभाग द्वारा जारी किया गया है. दिल्ली में भी आज मॉनसून के दस्तक देने के आसार है लेकिन फिलहाल दिल्ली में मौसम साफ बना हुआ है और बारिश का नामोंनिशान नहीं दिख रहा है.